महंगाई बढ़ रही इसलिए केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में बढ़ोत्तरी, एक बार फिर बढ़कर मिलेगा वेतन और पेंशन


– अप्रैल में AICPI का आंकड़ा 127.7 पर अगर मई और जून में भी उपर रहता है तो पांच प्रतिशत बढ़ेगा महंगाई भत्ता.
– 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनर्स को मिलेगा लाभ.
– अक्टूबर 2021 से पहले 28 प्रतिशत था महंगाई भत्ता और अब हो सकता है 39 प्रतिशत।   


देश गांव
काम की बात Published On :

केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में साल में दो बार जनवरी और जुलाई महीने में संशोधन किया जाता है। इस बार जुलाई में केंद्रीय कर्मचारियों के 5 प्रतिशत तक की डीए में बढ़ोतरी की उम्‍मीद है। इसकी वजह ऑल इंडिया कन्ज़्यूमर प्राइस इंडेक्स यानी AICPI के आंकड़े भी हैं जो कि इस समय काफी उंचे स्तर पर हैं। इसके साथ ही महंगाई दर भी अब तक के सबसे अधिक स्‍तर पर है। इससे पहले अक्टूबर 2021 में केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 3 प्रतिशत अधिक महंगाई भत्ता मिल रहा था।

इसके बाद फिर इन कर्मचारियों के लिए डीए बढ़कर 31 प्रतिशत किया गया। यह जुलाई 2021 से प्रभावी था। इसके बाद फिर जनवरी 2022 से  कर्मचारियों का डीए और डीआर का भुगतान 34 प्रतिशत की दर से किया जाना है और अब डीए में यह बढ़ोत्तरी कुल महंगाई भत्ता 38 से 39 प्रतिशत तक कर सकती है। सरकार अगर 5 प्रतिशत महंगाई भत्ता बढ़ाती है तो इस फैसले से 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनर्स को लाभ मिलेगा।

समझिये क्या है गणित…

जनवरी में AICPI 125.1 अंक पर था, जो फरवरी में घटकर 125 हो गया। हालांकि मार्च में सूचकांक में एक अंक की उछाल के साथ 126 अंक का उछाल देखा गया। अप्रैल में AICPI उछलकर 127.7 अंक पर पहुंच गया है। मई और जून के आंकड़ों पर अब कड़ी नजर रखी जाएगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अगर उन महीनों में आंकड़े 127 से ऊपर रहते हैं, तो डीए में पांच फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है।

AICPI भी जान लीजिए…

AICPI यानी ऑल इंडिया कन्ज़्यूमर प्राइस इंडेक्स को उपभोक्ता मूल्य सूचकांक कहा जाता है। यह वस्तु और सेवाओं की महंगाई मापने वाली एक पद्धति है। इस बार AICPI का आंकड़ा 127.7 हो चुका है। इससे पहले जनवरी में यह आंकड़ा 125.1 अंक था और  फरवरी में घटकर 125 हो गया था। इसके बाद अगले ही महीने मार्च में इस सूचकांक में एक अंक की बढ़ोत्तरी हुई और यह  126 अंक पर था और अप्रैल के आंकड़े 127.7 अंक पर पहुंच चुके हैं। इसके बाद मई और जून के आंकड़े आने बाकी हैं। जानकारों की मानें तो अगर इन महीनों में आंकड़े 127 से अधिक बने रहते हैं, तो डीए में पांच फीसदी की बढ़ोतरी पक्के तौर पर होगी।

समझिये कैसे बढ़ेगा वेतन!

सीधी सी बात है कि अगर महंगाई बढ़ रही है तो इसका सीधा फायदा केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा। इसे आसान भाषा में समझने के लिए 11 मई के ऑफिर मेमोरेंडम के मुताबिक जीवित सीपीएफ लाभार्थी, जो 18 नवंबर 1960 और 31 दिसंबर 1985 की अवधि के बीच सेवा से सेवानिवृत्त हुए हैं, उन कर्मचारियों को समूह ए, बी, सी और डी के लिए 3,000 रुपये, 1,000 रुपये, 750 रुपये और 650 रुपये की दर से राशि के हकदार हैं। वहीं 5 प्रतिशत डीए बढ़ने से कर्मचारियों की सैलरी में 34 हजार रुपए का लाभ होगा।