भाजपा की राज्यसभा उम्मीदवार कविता पाटीदार और सुमित्रा वाल्मीकि ने भरा पर्चा

देश गांव
भोपाल Updated On :
patidar and valmiki

भोपाल/इंदौर। भाजपा की राज्यसभा उम्मीदवार कविता पाटीदार और सुमित्रा वाल्मीकि ने मंगलवार को अपने-अपने नामांकनपत्र दाखिल कर दिए।

दोनों विधानसभा (रिटर्निंग ऑफिसर राज्यसभा निर्वाचन कार्यालय) में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ नामांकन पत्र भरने पहुंची।

कविता ओबीसी वर्ग से आती हैं, जबकि सुमित्रा अनुसूचित जाति वर्ग से हैं। प्रदेश में पहली बार भाजपा ने दोनों सीटें महिला को दी हैं। आज नामांकन जमा करने की आखिरी तारीख है।

एक जून को नामांकन पत्रों की जांच होगी। प्रत्याशी तीन जून तक नामांकन वापस ले सकते हैं और स्थिति बनी तो 10 जून को मतदान कराया जाएगा।

 

पंचायत सचिव संगठन के प्रदेशाध्यक्ष के ठिकानों पर EOW की रेड, ढाई करोड़ से ज्यादा की संपत्ति मिली – 

eow mp

मंदसौर में पंचायत सचिव संगठन के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश शर्मा के चार ठिकानों पर EOW ने छापा मारा है। जांच में अब तक 2 करोड़ 61 लाख की चल-अचल संपत्ति मिली। मंदसौर के 2 ठिकाने सहित इंदौर और भोपाल के ठिकानों पर भी कार्रवाई की जा रही है।

प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड के चेयरमैन और डीजीपी को हाईकोर्ट का नोटिस –

प्रतियोगी परीक्षा में प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड के मनमानी वाले रवैये को लेकर मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने आड़े हाथों लिया है और एक अंतरिम आदेश पारित कर नोटिस जारी किया है और जवाब भी मांगा है।

साथ ही भविष्य में ऐसी गलती न दोहराने की चेतावनी भी दी गई है। ऐसा न किए जाने पर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी गई है।

mppeb jobs

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति मनिंदर सिंह भट्टी की ग्रीष्म अवकाशकालीन एकलपीठ ने अंतरिम राहत देते हुए एक उम्मीदवार को अगले फिजिकल टेस्ट के दौरान एक और मौका देने के निर्देश दिए।

कोर्ट ने इस मामले में प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड के चेयरमैन और डीजीपी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। मामले पर अगली सुनवाई 13 जून को होगी।

भोपाल में सिर्फ महिला लड़ सकेगी जिपं अध्यक्ष का चुनाव, इंदौर-ग्वालियर में दलित महिला होगी जिला पंचायत अध्यक्ष –

मध्यप्रदेश के 52 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष पद को लेकर तस्वीर साफ हो गई है। भोपाल में इस बार सिर्फ महिला ही जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव लड़ सकेगी। इंदौर, ग्वालियर में सीट SC महिला के लिए रिजर्व हुई है। 26 जिले अनारक्षित किए गए हैं। इनमें CM शिवराज सिंह चौहान का गृह जिला सीहोर भी शामिल है।

52 जिला पंचायतों में से अनुसूचित जाति के लिए 8, अनुसूचित जनजाति के लिए 14 सीटें आरक्षित हैं। OBC के लिए सिर्फ 4 सीटें आरक्षित की गई हैं। यह 7.69% है। यह पिछली बार से आधी ही हैं। इसके लिए 18 सीटों में से पर्ची निकाली गई। जनसंख्या समेत पिछले रिजर्वेशन को आधार बताते हुए आरक्षण की कार्रवाई की गई। 4 में से 2 महिलाओं के लिए सीट आरक्षित की गई है।

8 जिला पंचायतें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित की गई हैं। इनमें इंदौर, ग्वालियर, खंडवा, छिंदवाड़ा, सिवनी, कटनी, रतलाम और देवास शामिल हैं। इंदौर, ग्वालियर, रतलाम और देवास SC महिलाओं के लिए आरक्षित हैं।

रिजर्वेशन प्रोसेस भोपाल के जल प्रबंधन संस्थान (वाल्मी, कलियासोत के पास) में पंचायती राज विभाग के संचालक आलोक कुमार सिंह ने पूरी कराई। नगरीय निकाय के अध्यक्षों के रिजर्वेशन प्रोसेस में देरी हो सकती है, क्योंकि 300 से ज्यादा निकायों के लिए यह कार्रवाई होगी। ऐसे में समय लग सकता है। हालांकि, इनकी प्रारंभिक तस्वीर पहले ही तय हो चुकी है।

हमीदिया अस्पताल के अधीक्षक के ड्राइवर की पत्थर से सिर कुचलकर हत्या –

भोपाल के हमीदिया अस्पताल के अधीक्षक दीपक मरावी के सरकारी ड्राइवर अमरसिंह की पत्थर से सिर कुचलकर हत्या कर दी गई। सोमवार रात 12 बजे पुलिस को छोला इलाके के मालीखेड़ी पुलिया के पास उनका शव मिला।

छोला थाना प्रभारी अनिल सिंह मौर्य ने बताया कि अमर सिंह (55) सोमवार रात 9 बजे डॉक्टर मरावी को घर छोड़कर अपने घर आए। वह घर में पत्नी को भंडारा खाने की बात कहकर बाइक से निकले थे।

रात में उनका शव मिला। उनकी बाइक भी पुलिस को मिली है। प्रारंभिक जांच में पत्थर से सिर कुचलकर हत्या करना सामने आया है।



Related