सेंट टेरेसा जमीन घोटालाः फरार आरोपियों को हाजिर होने के लिए कोर्ट से नोटिस जारी


एक माह में पेश नहीं होने पर संपत्ति कुर्की कार्रवाई होगी शुरू, पुलिस का फोकस चालान पेश करने की ओर।


देश गांव
धार Published On :
dhar police notice

धार। सेंट टेरेसा प्रकरण में फरार चल रहे जैन दंपत्ति को उदघोषणा के पश्चात पेश होने के लिए धार कोर्ट से नोटिस जारी किए गए हैं।

इस नोटिस के माध्यम से दोनों आरोपियों को एक माह के भीतर पेश होना होगा। अन्यथा कोर्ट धारा 83 के तहत संपत्ति कुर्की करने की कार्रवाई शुरू कर देगी।

बीते दिनों कोर्ट ने दोनों आरोपियों को लेकर गिरफ्तारी वारंट जारी किया था, लेकिन आरोपियों के नहीं मिलने पर पुलिस ने धारा 82 के तहत कार्रवाई को लेकर आवेदन प्रस्तुत किया, जिसके बाद कोर्ट ने नोटिस जारी किए हैं।

रविवार सुबह कोतवाली पुलिस टीम ने नोटिस चस्पा करने की कार्रवाई शुरू कर दी है। फरार आरोपियों के बसंत विहार कॉलोनी में स्थित मकान, आदर्श सड़क स्थित कॉम्प्लेक्स सहित शहर के करीब 20 स्थानों पर नोटिस चस्पा करने की कार्रवाई पुलिस द्वारा की गई है।

पुलिस जल्द ही नोटिस को लेकर शहर में डोंडी भी पिटवाने का काम भी करेगी। दरअसल मगजपुरा क्षेत्र में क्रमांक 29 की 3-074 हेक्टेयर जनकल्याण के लिए दी गई जमीन को आरोपी सुधीर दास व सुधीर जैन ने अपने साथियों के साथ मिलकर करोड़ों की जमीन को बेच दिया था, मामले में शिकायत के बाद पुलिस ने संज्ञान लेते हुए 28 नवंबर 2021 को प्रकरण दर्ज किया था।

पुलिस ने इस मामले में 26 नामजद आरोपी सहित एक संस्था को आरोपी बनाया तथा आरोपियों की गिरफ्तारी शुरू की गई। पुलिस ने इस मामले में जांच के दौरान करीब 34 आरोपी अभी तक बना लिए हैं जिसमें से मुख्य आरोपी सुधीर जैन व उसकी पत्नी प्रकरण दर्ज होने के बाद से ही फरार हैं।

सुधीर जैन पर करीब 30 हजार व़ उसकी पत्नी पर 10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित हैं, लेकिन दोनों ही आरोपी पिछले 6 माह से फरार चल रहे हैं।

ऐसे में अग्रिम जमानत आवेदन खारिज होने के बाद पुलिस नोटिस चस्पा करके संपत्ति कुर्की की कार्रवाई शुरू कर रही है। इस जमीन की कुल कीमत करीब 200 करोड़ रुपये है।

चालान होगा पेश –

धोखाधड़ी के इस प्रकरण में पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ ही दस्तावेजी साक्ष्य जुटाए हैं तथा इस पूरे प्रकरण की बारीकी से जांच एसआईटी टीम द्वारा की जा रही है।

ऐसे में पुलिस साक्ष्यों के आधार पर चालान पेश करने की तैयारी कर रही है। पिछले 15 दिनों से एसपी द्वारा गठित टीम इसी पर फोकस करके काम कर रही है।

पुलिस के अनुसार 10 जून तक चालान पेश होगा, जिसको लेकर ही डोजियर के माध्यम से प्रतिदिन बयान भी दर्ज हो रहे हैं तथा करीब 90 लोगों को चिन्हित करके अपने दस्तावेजों सहित पेश होने के लिए नोटिस भी जारी किए गए हैं।

ये ऐसे लोग हैं जिन्होंने फरार आरोपी सुधीर जैन से संपर्क में आने के बाद अलग-अलग लोगों से मिलकर शासकीय जमीन की रजिस्ट्री करवाई है। साथ ही इस भूमि को खरीदने वाले दूसरी, तीसरी व चौथी पंक्ति के क्रमश लोगों को बुलाया गया है।

इसके साथ ही रजिस्ट्री के दौरान गवाह के रुप में हस्ताक्षर करने वाले लोगों को भी तलब किया गया है। पुलिस अब इन लोगों के माध्यम से शासकीय जमीन की हुई रजिस्ट्रियों के बारे में जानकारी जुटा रही है, ताकि आने वाले समय में चालान पेश होने के दौरान पुलिस ऐसे लोगों के बयान भी डोजियर के माध्यम से डायरी के साथ पेश कर सके।

जल्द होंगे गिरफ्तार –

चालान पेश करने के साथ ही पुलिस इस प्रकरण में आरोपियों की संख्या जल्द ही बढ़ाने वाली है। नोटिस जारी हुए लोगों से पूछताछ व दस्तावेजों का अध्ययन करते हुए पुलिस जल्द ही इस प्रकरण में आरोपियों की संख्या बढ़ाएगी।

पुलिस जल्द ही जमीन की धोखाधड़ी में सुधीर जैन का साथ देने वाले 6 लोगों को आरोपी बनाएगी तथा इन लोगों को चालान पेश करने के साथ ही गिरफ्तार भी किया जाएगा।



Related