संक्रमणः भाजपा नेत्री के बाद बेटी का भी निधन, चौबीस घंटों में 334 नए संक्रमित, 324 स्वस्थ भी हुए


महू प्रदेश में सबसे संक्रमित तहसील है। यहां अप्रैल महीने में ही 4671 लोग संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या 174 हो चुकी है।


अरूण सोलंकी अरूण सोलंकी
इन्दौर Updated On :
mhow-station

महू (इंदौर)। प्रदेश में सबसे संक्रमित तहसील बन चुके महू अब स्थिति और भी विकट होती जा रही है। यहां भारतीय जनता पार्टी की एक स्थानीय महिला नेता के निधन के बाद उनकी पंद्रह वर्षीय बेटी का भी निधन हो गया।

गुरुवार को यहां भाजपा मंडल की उपाध्यक्ष इंद्रा स्वामी का निधन हुआ था वहीं रात को उनकी सोलह वर्षीय पूर्वा की भी मृत्यु हो गई। वह भी कोरोना संक्रमित थीं। शहर में बीते दो दिनों में दो बड़े किराना व्यापारियों की भी मौत हुई है।

शुक्रवार को महू तहसील में नए संक्रमित मिले हैं। अब यहां कुल 8874 संक्रमित हो चुके हैं और 2969 सक्रिय संक्रमित हैं। इसके अलावा चौबीस घंटों के दौरान छह लोगों की मौत हुई है।

इसके साथ ही संक्रमण के चलते मौत का कुल आंकड़ा 174 हो चुका है। हालांकि शहर के श्मशान में कुल बारह शवों का अंतिम संस्कार किया गया है। इनमें से आठ संक्रमित बताए गए हैं।

हालांकि इन चौबीस घंटों के दौरान अच्छी खबर भी आ रही है। कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने वाले लोगों का आंकड़ा भी बढ़ा है। शुक्रवार को 324 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है।

तहसील में अप्रैल महीने में ही 4671 लोग संक्रमित पाए गए हैं। यहां अस्पतालों की बात करें तो यहां अब तक करीब ढ़ाई सौ ही बिस्तर उपलब्ध हैं। जबकि मरीज़ों की संख्या काफी ज्यादा है। ऐसे में बहुत से रोगियों को अस्पताल में भर्ती होने के लिए नंबर लगाना पड़ रहा है।

इस बीच प्रशासन इलाज के लिए कुछ नए इंतज़ाम कर रहा है। इसके लिए रेलवे के दो आईसोलेशन कोच तैयार किए जा रहे हैं। इसके अलावा आईसोलेशन के लिए कुछ और इंतज़ामों की जरुरत महसूस की जा रही है। जिसे लेकर अधिकारी प्रयासरत हैं।

तहसील में लगातार हो रही मौतों से शहर के लोग स्तब्ध हैं। ऑक्सीजन स्तर में गिरावट संक्रमितों की मौत का कारण बन रहा है। डॉक्टरों के मुताबिक कोरोना के इस नए स्ट्रेन से नौजवानों को भी खतरा है।