नए साल का जश्न मनाने के लिए एटीएम लूटना चाहते थे दुर्लभ कश्यप गैंग के सदस्य, 4 गिरफ्तार


पकड़े गए ये सभी बदमाश इंटरनेट मीडिया पर काफी एक्टिव हैं और दुर्लभ कश्यप गैंग से जुड़े हुए हैं। सोशल मीडिया पर ये सभी हथियारों के साथ फोटो व धमकी भरे पोस्ट भी करते हैं।


देश गांव
उज्जैन Published On :
Durlabh-Kashyap-Murder-Case

उज्जैन। जीवाजीगंज पुलिस ने खाक चौक स्थित वीर सावरकर प्याउ के समीप नए साल का जश्न मनाने के लिए एटीएम लूटने की साजिश रच रहे दुर्लभ कश्यप गैंग के चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है जबकि एक आरोपी मौके से भाग निकलने में कामयाब रहा।

पुलिस ने इन बदमाशों के कब्जे से चाकू, लोहे की रॉड व अन्य हथियार जब्त किए हैं। बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि वह आयुर्वेदिक कॉलेज परिसर में लगे एटीएम को लूटने की योजना बना रहे थे।

पुलिस को शुक्रवार की रात मुखबिरों से खबर मिली कि खाक चौक स्थित वीर सावरकर प्याउ के समीप बैठकर कुछ बदमाश एटीएम लूट की योजना बना रहे हैं। पुलिस ने मौके पर दबिश देकर चार बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जबकि एक वहां से भागने में कामयाब हो गया।

पूछताछ में बदमाशों ने अपने नाम राहुल पुत्र रामप्रसाद निवासी रणजीत हनुमान मंदिर के समीप, सागर पुत्र दुलेसिंह निवासी तिलकेश्वर कॉलोनी, अभिषेक पुत्र कैलाश और दुर्गेश पुत्र उमाशंकर दोनों निवासी तिलकेश्वर कॉलोनी बताए जबकि भागने वाले साथी का नाम हितेश जैन निवासी नयापुरा बताया है।

पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए ये सभी बदमाश इंटरनेट मीडिया पर काफी एक्टिव हैं और दुर्लभ कश्यप गैंग से जुड़े हुए हैं। सोशल मीडिया पर ये सभी हथियारों के साथ फोटो व धमकी भरे पोस्ट भी करते हैं। पुलिस आरोपियों से अन्य वारदात की बाबत पूछताछ कर रही है।

बता दें कि दुर्लभ कश्यप की करीब डेढ़ साल पूर्व हेलावाड़ी में गैंगवार में ही हत्या कर दी गई थी जिसके बाद भी उसकी गैंग के बदमाश उसके नाम का ही उपयोग करते हैं। इसी गैंग के सदस्यों में से एक बदमाश ने तीन दिन पहले मंगलनाथ क्षेत्र के ही एक कैफे पर युवक पर जानलेवा हमला किया था।



Related