उज्जैनः चाइनीज मांझा से ब्रिज पर कटा लड़की का गला, हुई मौत


चाइनीज मांझे का इस्तेमाल पतंग उड़ाने में किया जाता है। यह सामान्य मांझे से अलग होती है और जल्दी टूटती नहीं है‌। इसी कारण लोग इसकी चपेट में आकर घायल होते हैं। प्र


देश गांव
उज्जैन Published On :
chinese manjha

उज्जैन। उज्जैन के फ्रीगंज स्थित जीरो पॉइंट ब्रिज पर स्कूटी से जा रही नेहा आंजना नामक 17 वर्षीय युवती का गला शनिवार की दोपहर 12.20 बजे चाइनीज मांझे से कट गया। उसे तत्काल इलाज के लिए निजी अस्पताल ले जाया गया लेकिन इलाज के दौरान ही उसकी मौत हो गई।

जानकारी के मुताबिक, नेहा अपनी सहेली के साथ दोपहर 12:20 बजे के करीब स्कूटी से ब्रिज पार कर रही थी।‌ इसी दौरान वो पतंग की चाइनीज मांझे की चपेट में आ गई। गला कटने पर राहगीरों ने उसे पाटीदार अस्पताल पहुंचाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

बता दें कि चाइनीज मांझे का इस्तेमाल पतंग उड़ाने में किया जाता है। यह सामान्य मांझे से अलग होती है और जल्दी टूटती नहीं है‌। इसी कारण लोग इसकी चपेट में आकर घायल होते हैं। प्रशासन ने इस पर प्रतिबंध लगा रखा है, लेकि इसके बावजूद चोरी-छिपे इसकी बिक्री की जाती है।

मकर संक्रांति के मौके पर शुक्रवार को पुलिस ने कई दुकानों पर दबिश देकर प्रतिबंधित चाइनीज मांझा जब्त किया था। बता दें कि दो दिन पहले भी एक बच्चा चाइनीज मांझे की चपेट में आकर घायल हो गया था।



Related