मंदसौरः जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 6 हुई, हटाए गए जिला आबकारी अधिकारी सांवले


मंदसौर जिले के पिपलियामंडी थाना क्षेत्र के गांव खंखराई में जहरीली शराब पीने से अब तक छह लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच मंदसौर जिला आबकारी अधिकारी सीपी सांवले का तबादला उज्जैन फ्लाइंग स्क्वॉड में कर दिया गया है।


देश गांव
उज्जैन Published On :
mandsaur-liquor-case

मंदसौर। मंदसौर जिले के पिपलियामंडी थाना क्षेत्र के गांव खंखराई में जहरीली शराब पीने से अब तक छह लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच मंदसौर जिला आबकारी अधिकारी सीपी सांवले का तबादला उज्जैन फ्लाइंग स्क्वॉड में कर दिया गया है।

इसके साथ ही मंदसौर के प्रभारी आबकारी अधिकारी के रूप में नीमच जिला आबकारी अधिकारी को चार्ज देने के आदेश दिए गए हैं। रतलाम रेंज डीआईजी सुशांत सक्सेना एसपी सिद्धार्थ चौधरी के साथ पिपलियामंडी थाना पहुंचे हैं और यहां आसपास के सभी थाने का बल बुलाया गया।

अब 10-15 दल बनाकर ग्रामीण अंचलों में अवैध शराब बिकने वाली जगहों पर छापामार कार्यवाही और सर्चिंग को लेकर ये दल रवाना हुए हैं।

मंगलवार सुबह भी दो अन्य लोगों की मौत और तीन लोगों के अस्पताल में भर्ती होने के बाद प्रशासनिक अमला हरकत में आया और पिपलियामंडी देशी शराब की दुकान पर भी पुलिस टीम ने दबिश दी।

पिपलियामंडी थाने में दर्ज कराई गई एफआईआर के मुताबिक, खंखराई ग्राम में किराना दुकान से लंबे समय से अवैध शराब बिक रही थी और यहीं से बिना लेबल की शराब खरीदकर पी गई थी।

अस्पताल में भर्ती चार लोगों की हालत गंभीर है, इनमें से एक की आंखों की रोशनी भी चली गई है। आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा के विधानसभा क्षेत्र मल्हारगढ़ में ही हुई इस घटना से कांग्रेस ने भोपाल तक सरकार को निशाने पर ले रखा है।

पुलिस ने किराना दुकान संचालक पिंटू सिंह पुत्र महिपाल सिंह निवासी खंखराई को गिरफ्तार किया है। वहीं अवैध शराब बेचने वाले घनश्याम ओड़ को भी हिरासत में लिया गया है।

पोस्टमार्टम रूम से शव उठाने से पहले कांग्रेस नेताओं के प्रदर्शन के बाद एडीएम आरपी वर्मा ने परिजनों के खातों में दो-दो लाख रुपये जमा करने व मुआवजे की मांग शासन को भेजने की बात कहकर उनको रवाना किया।



Related