महाकाल के गर्भ गृह में जबरन घुसने वाले भाजपा युवा मोर्चा के नेताओं पर पार्टी ने की कार्रवाई


पार्टी ने 2 अध्यक्षों सहित 18 दूसरे पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं को भी पार्टी की सभी जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया गया है।


देश गांव
उज्जैन Updated On :

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने पिछले दिनों उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन किए। इस दौरान भाजपा युवा मोर्चा के नेताओं ने खासा हंगामा किया और महाकाल मंदिर परिसर के सुरक्षाकर्मियों और प्रशासनिक लोगों से दुर्व्यवहार किया। इस मामले के बाद पार्टी की छवि को भी नुकसान पहुंचा। जिसके बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष वैभव पवार को कार्रवाई करने के लिए कहा था।

पार्टी ने उज्जैन नगर के जिलाध्यक्ष अमय शर्मा और उज्जैन ग्रामीण के जिलाध्यक्ष नरेंद्र सिंह जलवा को अध्यक्ष पद से हटा दिया हैं। इनके साथ 18 दूसरे पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं को भी पार्टी की सभी जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया गया है।

भाजपा युवा मोर्चा की मध्य प्रदेश इकाई की ओर से जारी बयान में कहा गया है,

‘भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रवास के दौरान महाकाल मंदिर परिसर पार्टी कार्यकर्ताओं का व्यवहार गलत था. इससे मंदिर की गरिमा को ठेस पहुंची है. और पार्टी की प्रतिष्ठा को भी नुकसान हुआ है.’

दरअसल सूर्या के प्रवास के दौरान यह कार्य करता नंदी हॉल में घुसने की कोशिश कर रहे थे जहां तैनात मंदिर के सुरक्षाकर्मियों और पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका। इसके बाद कार्यकर्ता नाराज़ हो गए और उन्होंने रोकने वालों से अभद्रता की। मंदिर प्रशासन ने 22 अगस्त तक महाकाल के गर्भ गृह में प्रवेश पर रोक लगा दी थी ऐसे में वहां किसी को जाने की इजाजत नहीं थी।

 



Related