कांग्रेस का संसद से सड़क तक हल्ला बोल: हिरासत में लिए गए राहुल-प्रियंका गांधी समेत कई नेता


कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन व पार्टी कार्यकर्ताओं की बड़ी संख्या को देखते हुए अकबर रोड पर भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। पुलिस ने तीन चरणों में जवानों को तैनात किया है और किसी भी कार्यकर्ता अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है।


देश गांव
राजनीति Published On :
rahul priyanka

नई दिल्ली। महंगाई, बेरोजगारी व केंद्र सरकार की कई नीतियों के खिलाफ कांग्रेस शुक्रवार को सुबह से ही संसद से सड़क तक हल्ला बोलते हुए प्रदर्शन कर रही है।

सबसे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेसी सांसदों के साथ संसद में काले कपड़े पहनकर जमकर नारेबाजी की और फिर राहुल गांधी कई अन्य कांग्रेसी नेताओं संग संसद से राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालने के लिए निकले, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया और हिरासत में ले लिया।

इसके बाद, पार्टी मुख्यालय में मौजूद प्रियंका गांधी ने मोर्चा संभाला और वे अपने सांसदों के साथ पीएम आवास का घेराव करने के लिए आगे बढ़ीं तो पुलिस ने उन्हें भी आगे नहीं बढ़ने दिया जिसके बाद वे वहीं सड़क पर ही घरने पर बैठ गईं।

पुलिस ने प्रियंका गांधी वाड्रा को भी हिरासत में ले लिया। इस दौरान अजय माकन, सचिन पायलट, हरीश रावत, अविनाश पांडे सहित कांग्रेस के सभी बड़े नेताओं को दिल्ली पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया।

प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस मुख्यालय के सामने पुलिस ने जब रोका तो वे वहीं धरने पर बैठ गईं। प्रियंका गांधी ने पुलिस वालों से कहा कि वो सरकार से समझौता करने नहीं बैठी हैं। महंगाई का विरोध करके जनता की आवाज उठाना उनका हक है।

कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन व पार्टी कार्यकर्ताओं की बड़ी संख्या को देखते हुए अकबर रोड पर भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। पुलिस ने तीन चरणों में जवानों को तैनात किया है और किसी भी कार्यकर्ता अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है।

दिल्ली पुलिस हिरासत में लिए गए मल्लिकार्जुन खड़गे, जयराम रमेश और रंजीत रंजन सहित अन्य कांग्रेसी सांसदों व नेताओं को किंग्सवे कैंप पुलिस लाइन लेकर पहुंची है।

इससे पहले शुक्रवार की सुबह राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि क्या आप तानाशाही का मजा ले रहे हैं, यहां रोज लोकतंत्र की हत्या हो रही है। इस सरकार ने 8 साल में लोकतंत्र को बर्बाद कर दिया।

देश की मीडिया, इलेक्टोरल सिस्टम इनके दम पर विपक्ष खड़ा होता है, लेकिन देश में हर इंस्टीट्यूट में RSS का आदमी बैठा है। वह सरकार के कंट्रोल में है। जब हमारी सरकार होती थी तब इन्फ्रास्ट्रक्चर न्यूट्रल होता था। हम उसमें दखल नहीं देते थे। आज यह सरकार के साथ है। कोई विरोध करता है तो उसके खिलाफ केंद्रीय जांच एजेंसियां लगा दी जाती हैं।

लोकतंत्र की जो मौत हुई, उससे आपको कैसा लग रहा है? जिस लोकतंत्र को 70 सालों में बनाया गया, उसे आठ साल में खत्म कर दिया गया।
मेरी दिक्कत ये है कि मैं सच्चाई बोलूंगा, महंगाई, बेरोजगारी का मुद्दा उठाने का काम करूंगा। जो डरता है, वो धमकाता है। जो आज देश की हालत है उससे डरते हैं, जो उन्होंने पूरे नहीं किए, महंगाई और बेरोजगारी से डरते हैं। जनता की शक्ति से डरते हैं, क्योंकि ये 24 घंटा झूठ बोलते हैं।

दरअसल, कांग्रेस आज देशभर में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। मीडिया से बात करने के दौरान राहुल गांधी ने अपनी बाजू पर काली पट्टी बांधी हुई थी।

कांग्रेस के प्रदर्शन को देखते हुए जंतर-मंतर इलाके को छोड़ पूरी दिल्ली में धारा 144 लागू लगाई गई है। दिल्ली पुलिस ने कहा कि कानून व्यवस्था को देखते हुए यह फैसला किया गया है।



Related