एमपी के इन 27 शहरों को नहीं गर्मी से राहत


प्रदेश के 27 शहरों में तापमान 43 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया


देश गांव
हवा-पानी Updated On :

भोपाल। साल 2022 गर्मी के मामले में भी ऐतिहासिक साबित हो रहा है। इस बार कई जिलों में तापमान पहले से अधिक दर्ज किया गया है। भारत में मार्च के महीने में ही लू चलने की खबर दुनिया भर में सुर्खियों में रही।  विशेषज्ञों के मुताबिक इसका कारण ग्लोबल वार्मिंग है। अब आने वाले दिनों में भी प्रदेश के कुछ जिलों में गर्मियों से राहत की संभावना कम ही दिखाई दे रही है। यहां मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग ने भोपाल सहित 27 जिलों के लिए हीटवेव का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। विभाग का कहना है कि फ़िलहाल गर्मी से राहत मिलने की सम्भावना नहीं है और अगले दो दिनों तक प्रदेश के कई जिलों में तापमान 46 से 48 डिग्री सेल्सियस तक बना रहेगा।

मौसम विभाग ने लोगों को गर्मी में ज्यादा बाहर ना निकलने की सलाह दी है। प्रदेश के छतरपुर जिले का नौगांव दुनिया के सबसे गर्म शहरों में शामिल हो गया है। मई के पहले पखवाड़े में यहां इतनी अधिक गर्मी प्रदेश में पिछले 16 सालों में नहीं हुई थी।

शनिवार को नौगांव दुनिया का सातवां सबसे गर्म शहर रहा। यहाँ तापमान ने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। शनिवार को नौगांव का तापमान 48 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मई के पहले पखवाड़े में ही प्रदेश के कई जिलों का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर चला गया है।

मौसम विभाग का कहना है कि अगले दो से तीन दिनों तक पूरे प्रदेश में भीषण गर्मीं लोगों को बेहाल करेगी। प्रदेश के अधिकांश जिलों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर बना रहेगा। इसके बाद तापमान में 1 या 2 डिग्री की गिरावट आने के आसार हैं।

मौसम विभाग ने जिन 27 जिलों में हीटवेव का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है उनमें भोपाल सहित नौगांव, राजगढ़, खजुराहो, शाजापुर, गुना, सागर, दमोह, सतना, खरगोन, ग्वालियर और खंडवा जिले शामिल हैं।

इसके अलावा प्रदेश के 27 शहरों में तापमान 43 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया। वहीं प्रदेश के 19 शहरों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया है।

शनिवार को राजगढ़ और खजुराहो में तापमान 47 डिग्री दर्ज किया गया। जबकि खरगोन में 46.5 डिग्री, खंडवा में 46.1 डिग्री, ग्वालियर में 46.2 डिग्री, गुना में 46 डिग्री तापमान रिकॉर्ड हुआ।



Related