15 से 18 साल तक के बच्चों के टीकाकरण को लेकर तैयारी में जुटा स्वास्थ्य विभाग


96 हजार बच्चे चिन्हित, दो दिन में तैयार होगा टीकाकरण के लिए प्लान। बच्चों को स्कूल में ही टीके लगाए जाएंगे या अन्य वैक्सीनेशन सेंटरों पर इसको लेकर भोपाल से नए निर्देश आने पर या बैठक में तय होने के बाद ही निर्णय लिया जाएगा।


देश गांव
दवा-दारू Published On :
covid-19-vaccine

धार। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच 3 जनवरी से 15 से 18 साल तक के बच्चों के टीकाकरण की अनुमति मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग धार ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

विभाग की टीम ने जिले के करीब 96 हजार बच्चों को चिन्हित किया हैं, जिन्हें नए साल के पहले सप्ताह में टीका लगाया जाएगा। इसके लिए एक जनवरी से बकायदा बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए पोर्टल पर स्लॉट उपलब्ध रहेंगे, जिसे बुक कर टीका लगाने के लिए बच्चे केंद्र पर आ सकते हैं।

विभाग के अधिकारियों की मानें तो बच्चों को स्कूल में ही टीके लगाए जाएंगे या अन्य वैक्सीनेशन सेंटरों पर, इसको लेकर भोपाल से नए निर्देश आने पर या बैठक में तय होने के बाद ही निर्णय लिया जाएगा।

हालांकि अगले दो दिनों में विभाग पूरी जानकारी जुटाने के साथ ही ब्लॉक स्तर पर बच्चों के टीके को लेकर लक्ष्य तय कर लेगा। जिले में 175 शासकीय हाईस्कूल, 125 हाई सेकेंडरी स्कूल के साथ 730 निजी स्कूल है।

फ्रंटलाइन व हेल्थ वर्कर्स को लगेगा बूस्टर डोज भी –

जिले में हेल्थ वर्करों को 10 जनवरी से वैक्सीन का बूस्टर डोज लगेगा, इसे लगाने की तैयारियां भी विभाग कर रहा है। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार 12 हजार 881 हेल्थ वर्कर व 8 हजार 434 फ्रंटलाइन वर्कर को बूस्टर डोज लगाया जाएगा। साथ ही जिले में प्रतिदिन भी वैक्सीन के डोज लगाने का काम भी जारी है।

अब तक 14 लाख 51 हजार 264 लोगों को वैक्सीन का प्रथम डोज लग चुका है तथा दूसरा डोज 14 लाख लोगों को लगा है। ऐसे में शेष लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए कंट्रोल रुम से फोन कर केंद्रों पर आने की जानकारी भी दी जा रही है।

स्कूलों में जाकर लगाएंगे टीका –

जिले भर में ब्लॉक स्तरों पर डॉक्टरों व नर्सों के साथ बैठक लेकर तैयारी कर रहे हैं। हम स्कूलों में जाकर टीका लगाएंगे। बाद में बचे हुए बच्चों को कैंप लगाकर टीके लगाए जाएंगे। कोई बच्चा छुटे नहीं, इसको लेकर भी घर-घर जाकर टीका लगाएंगे। पहली प्रथमिकता स्कूली बच्चों की रहेगी। 

– सुधीर मोदी, टीकाकरण अधिकारी 



Related