देश में 24 घंटे में मिले 1.93 लाख नए कोरोना संक्रमित, 442 लोगों की मौत


देश में कोरोना संक्रमण के थर्ड वेव में एक्टिव केस पहली बार 9 लाख के पार पहुंचे हैं जबकि नए संक्रमितों में 25 हजार की बढ़ोतरी देखने को मिली है। इससे पहले सोमवार को 1.69 लाख लोग संक्रमित मिले थे।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :
corona positive india
Photo Courtsey_Quint


नई दिल्ली। भारत में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 1 लाख 93 हजार नए केस पाए गए हैं जबकि 60,182 लोग ठीक हुए और 442 लोगों की मौत भी हुई है। वहीं, ओमिक्रोन के मामले भी बढ़कर 4868 हो गए हैं।

बुधवार को एक्टिव केस की संख्या में एक लाख 33 हजार 318 की बढ़ोतरी दर्ज की गई और इस कारण ही अब देशभर में यह आंकड़ा 9.48 लाख तक पहुंच चुका है।

देश में कोरोना संक्रमण के थर्ड वेव में एक्टिव केस पहली बार 9 लाख के पार पहुंचे हैं जबकि नए संक्रमितों में 25 हजार की बढ़ोतरी देखने को मिली है। इससे पहले सोमवार को 1.69 लाख लोग संक्रमित मिले थे।

बता दें कि देश में अब कुल 3.60 करोड़ लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं, जिनमें से 3.46 करोड़ लोग स्वस्थ हो चुके हैं और अब तक 4 लाख 84 हजार 655 लोगों की मौत हो चुकी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि देश में 14 दिन में ही पॉजिटिविटी रेट 11 गुना बढ़ गया है। 30 दिसंबर को देश में 1.1% पॉजिटिविटी रेट था, जो 12 जनवरी को 11.05% हो गया है। देश में अब एक्टिव केसेज की संख्या 9,55,319 हो गई है।

हालांकि तेजी से नए मामले बढ़ने का यह ट्रेंड भारत में ही नहीं बल्कि ग्लोबल लेवल पर भी है। दुनिया के 159 देशों में तेजी से नए केस बढ़े हैं, जिनमें यूरोप के 8 देशों में महज दो सप्ताह में ही दोगुने नए मामले सामने आए हैं।

साथ ही अग्रवाल ने यह भी कहा कि कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट से दुनिया में 115 मौतें हुई हैं और भारत में इस वैरिएंट से एक व्यक्ति की जान गई।

अच्छी खबर ये भी है कि अब तक सामने आए डेटा के मुताबिक ओमिक्रॉन वैरिएंट तेजी से खतरनाक डेल्टा वैरिएंट की जगह ले रहा है। साथ ही डेल्टा से संक्रमित होने वालों के मुकाबले ओमिक्रॉन पॉजिटिव लोगों का हॉस्पिटलाइजेशन रेट बेहद कम रहा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना लहर के दौरान आठ राज्य परेशानी का सबब बने हुए हैं, जहां पॉजिटिविटी रेट बहुत ज्यादा है।

इन राज्यों में महाराष्ट्र, बंगाल, दिल्ली, तमिलनाडु, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, केरल और गुजरात हैं। इनमें सबसे ज्यादा 32.18% पॉजिटिविटी रेट बंगाल में, फिर इसके बाद दिल्ली में 23.1% और महाराष्ट्र में ये दर 22.39% है।



Related