मध्‍यप्रदेशः कोरोना संक्रमण से पांच की मौत, 11274 नए मरीज मिले


कोरोना की तीसरी लहर में प्रदेश में 26 दिसंबर के बाद से मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही संक्रमण दर भी लगातार बढ़ रही है। हर दिन 30 मरीजों से बढ़ते हुए आंकड़ा 11 हजार से ऊपर पहुंच चुका है।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :
corona-virus-2022

इंदौर/भोपाल। मध्यप्रदेश में शुक्रवार को कुल 83,694 सैंपल की जांच में कोरोना संक्रमण के 11,274 मरीज मिले हैं और प्रदेश में संक्रमण दर 13 फीसदी पहुंच गया है।

कोरोना की तीसरी लहर में प्रदेश में 26 दिसंबर के बाद से मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही संक्रमण दर भी लगातार बढ़ रही है। हर दिन 30 मरीजों से बढ़ते हुए आंकड़ा 11 हजार से ऊपर पहुंच चुका है।

तीसरी लहर में यह दूसरी बार है, जब प्रदेश में कोरोना से एक ही दिन में पांच मरीजों की मौत हुई है, जिनमें से तीन मरीजों की मौत इंदौर, एक की सागर और एक की उज्जैन में हुई है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा शनिवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, प्रदेश में सक्रिय मरीजों का आंकड़ा भी बढ़कर 61,388 तक पहुंच गया है। इनमें 922 यानी डेढ़ फीसदी मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। संदिग्ध मरीजों में भी 112 मरीज निजी और सरकारी अस्पतालों में हैं।

इंदौर में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 3169 नए मामले सामने आए हैं और तीन मौतें हुईं हैं। एक दिन पहले इंदौर में 2838 केस आए थे।

भोपाल में 2107 मिले हैं जबकि जबलपुर में शुक्रवार रात 740 नए केस सामने आए हैं जो तीसरी लहर में सबसे अधिक मामले है। इससे पहले अप्रैल 2021 में इतने केस एक दिन में सामने आ रहे थे।

हालांकि 300 से अधिक लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं। जिले में एक्टिव केस की संख्या चार हजार के लगभग पहुंच चुकी है।

ग्वालियर में 586 कोरोना संक्रमितों के मिलने के साथ ही सबसे कम उम्र में कोरोना से मौत हुई है। यहां पांच दिन की बच्ची की काेरोना से मौत का मामला सामने आया है।



Related