महंगाई के रिकार्ड ऊंचाई तक जाने के बाद सस्ता हुआ पेट्रोल और डीजल


केंद्र सरकार ने इसके पहले नवम्बर 2021 को भी मोदी सरकार ने पेट्रोल पर 5 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 10 रुपये प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी की कटौती की थी।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

नई दिल्ली। देश में महंगाई दर की रिकार्ड ऊंचाई के बाद केंद्र सरकार एक्शन में आई है। शनिवार को सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर एक्साइड ड्यूटी में कटौती की है। इस बारे में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट करते जानकारी दी।

सरकार ने पिछले कुछ महीनों में लगातार पेट्रोल, डीजल, सीएनजी और एलपीजी के दामों में बढ़ोत्तरी की है। एलपीजी और सीएनजी के दाम बेतहाशा बढ़ाए गए हैं। जिसे लेकर आम लोग खासे परेशान है। पिछले दिनों आए आंंकड़ों के मुताबिक खुदरा और थोक मंहगाई दर रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं।

 

केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 8 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 6 रुपए प्रति लीटर एक्साइड ड्यूटी में कटौती की है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के करीब 9 करोड़ से ज्यादा लाभार्थियों को गैस सिलेंडर पर 200 रुपए की सब्सिडी का भी ऐलान किया गया है। यह सब्सिडी साल में 12 सिलेंडरों पर मिलेगी।

एक्साइज ड्यूटी में कटौती के बाद अब पेट्रोल 9.5 रुपए प्रति लीटर और डीजल 7 रुपए प्रति लीटर सस्ता हो जाएगा। इससे 1 लाख करोड़ प्रति वर्ष राजस्व प्रभावित होगा।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि मैं सभी राज्य सरकारों, विशेषकर उन राज्यों से (जहां नवंबर 2021 के दौरान कटौती नहीं की गई थी)  चाहती हूं कि कि इसी तरह की कटौती लागू कर आम आदमी को राहत दी जाए।

केंद्र सरकार ने इसके पहले नवम्बर 2021 को भी मोदी सरकार ने पेट्रोल पर 5 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 10 रुपये प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी की कटौती की थी।

 

 



Related