उड्डयन मंत्री बनने के बाद सिंधिया ने मप्र को दी आठ उड़ानें, ग्वालियर को मिलेगी ज्यादा सुविधा


सिंधिया ने स्पष्ट किया कि यह सभी उड़ानें स्पाइस जेट द्वारा संचालित की जाएंगी।


देश गांव
बड़ी बात Published On :

भोपाल। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बनने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने राज्य मध्यप्रदेश के लिए खुशखबरी दी है। अपने ट्टिवटर हैंडल पर जानकारी साझा करते हुए उन्होंने कहा कि  राज्य में 16 जुलाई से उड़ान योजना के तहत आठ नई उड़ानें शुरू होंगी, जो देश के बाकी हिस्सों के साथ छोटे हवाई अड्डों को जोड़ने पर केंद्रित हैं।

इस नए कार्यक्रम में सिंधिया ने अपने शहर ग्वालियर का खास ख्याल रखा है। अब 16 जुलाई से ग्वालियर-मुंबई, ग्वालियर-पुणे, जबलपुर-सूरत,  अहमदाबाद-ग्वालियर के बीच उड़ानें शुरु होंगी।

सिंधिया ने स्पष्ट किया कि यह सभी उड़ानें स्पाइस जेट द्वारा संचालित की जाएंगी। उन्होंने कहा कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय और उड्डयन उद्योग UDAN योजना को और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है।

केंद्र सरकार ने घरेलू हवाई अड्डों को ध्यान में रखते हुए  UDAN योजना की शुरुआत की है। इसके तहत देश के 100 हवाई अड्डों से यात्रा संचालन का लक्ष्य रखा गया है।

उल्लेखनीय है कि सिंधिया देश के तैंतीसवें  नागरिक उड्डयन मंत्री हैं। इससे पहले उनके पिता भी 90 के दशक के पीवी नरसिम्हाराव की सरकार में इसी पद पर रहे थे।

सिंधिया को भारतीय जनता पार्टी में आने के बाद मंत्री बनने के लिए कोई बहुत लंबा इंतजार नहीं करना पड़ा है। उन्होंने साल 2020 की शुरुआत में मध्यप्रदेश कांग्रेस में बगावत की शुरुआत की और अपने साथ अपने सर्मथकों को भी भारतीय जनता पार्टी में ले आए थे और इस तरह मध्यप्रदेश में पंद्रह साल बाद बनने वाली कांग्रेस की सरकार महज़ तेरह महीनों में ही गिर गई थी। इसके बाद सिंधिया को राज्यसभा सदस्य बनाया गया और अब वे मंत्री हैं।

 



Related