कोरोना से मौतों पर शिवराज के मंत्री का शर्मनाक बयान, बोले- उम्र हो जाती है तो मरना भी पड़ता है


शिवराज सरकार में पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि लोगों की उम्र हो जाती है, तो मरना भी पड़ता है। दरअसल उन्होंने यह बयान तब दिया जब उनसे कोरोना से हो रही मौतों के बारे में सवाल किया गया।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :
prem-singh-patel

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण से बेकाबू हो रहे हालात के बीच रोजाना रिकॉर्ड संख्‍या में संक्रमित मरीजों की मौत हो रही है। इन मौतों को लेकर सूबे के मुखिया शिवराज के एक कैबिनेट मंत्री का शर्मनाक बयान आया है।

प्रेम सिंह पटेल का यह बयान 14 अप्रैल का है, जिसका वीडियो भी सामने आया है। उनका बयान ऐसे समय में आया है, जब राज्‍य में कई जगह अस्‍पतालों से डरावनी तस्‍वीर सामने आ रही है।

शिवराज सरकार में पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि लोगों की उम्र हो जाती है, तो मरना भी पड़ता है। दरअसल उन्होंने यह बयान तब दिया जब उनसे कोरोना से हो रही मौतों के बारे में सवाल किया गया।

मंत्री पटेल ने कहा मौतें हुई हैं, इन्हें कोई नहीं रोक सकता। कोरोना से बचने के लिए सब लोग सहयोग की बात कर रहे हैं। विधानसभा में हम सबसे चर्चा कर रहे हैं। मास्‍क पहनें, दूरी बनाकर रखें और डॉक्‍टर को दिखाएं। हर जगह डॉक्‍टरों की व्‍यवस्‍था की गई है। आप कह रहे हैं, रोजाना बहुत लोग मर रहे हैं, तो लोगों की उम्र हो जाती है, तो मरना भी पड़ता है।

पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल के इस बयान पर कांग्रेस ने उनको आड़े हाथों लिया है। कांग्रेस के प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा ने कहा कि प्रेम सिंह मंत्री पद के लायक नहीं हैं। उन्होंने सवाल किया है कि क्या इनके खिलाफ इस अमानवीय व्यवहार और अमानवीय वक्तव्य पर कोई कानूनी कार्रवाई होगी?

बता दें कि मध्यप्रदेश में जनवरी माह में जब बर्ड फ्लू का खतरा मंडरा रहा था, तब प्रेम सिंह पटेल ने बयान दिया था कि बर्ड फ्लू के चलते अगर जरूरत पड़ी, तो प्रदेश सरकार मांसाहार पर रोक लगा सकती है। इसको लेकर उन्होंने मुख्यमंत्री द्वारा ली गई बैठक का हवाला भी दिया था, जबकि उस बैठक में ऐसी बात तक नहीं हुई थी।



Related