कल्याण सिंह की हालत नाजुक, लंग्स के बाद किडनी में भी फैला इंफेक्शन


कल्याण सिंह को लेकर डॉक्टरों की टीम मंगलवार को कोई बड़ा फैसला ले सकती है। पीजीआई प्रशासन का दावा है कि उनकी सेहत की हर पल मॉनिटरिंग के लिए कई डिपार्टमेंट के एक्सपर्ट फैकल्टी को लगाया गया है।


देश गांव
बड़ी बात Published On :
kalyan-singh-critical

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के लिए अगले 24 घंटे काफी अहम हैं क्योंकि उनकी हालत बेहद नाजुक स्थिति में पहुंच गई है। उनके लंग्स के बाद अब किडनी में भी इंफेक्शन फैल गया है।

कल्याण सिंह का लखनऊ स्थित पीजीआई में इलाज चल रहा है और पिछले सात दिनों से वह वेंटिलेटर पर हैं। इस बीच, यूपी के वर्तमान सीएम योगी आदित्यनाथ कल्याण सिंह से मिलने पीजीआई पहुंचे।

सूत्रों के मुताबिक, कल्याण सिंह को लेकर डॉक्टरों की टीम मंगलवार को कोई बड़ा फैसला ले सकती है। पीजीआई प्रशासन का दावा है कि उनकी सेहत की हर पल मॉनिटरिंग के लिए कई डिपार्टमेंट के एक्सपर्ट फैकल्टी को लगाया गया है।

इस बीच पूर्व सीएम के परिवार के लोग भी लगातार पीजीआई में मौजूद हैं। हालांकि दो दिन से किसी बड़े नेता ने कल्याण सिंह से मुलाकात नहीं की थी।

पीजीआई के डायरेक्टर प्रो. आरके धीमन ने जानकारी दी है कि

पूर्व सीएम को पीजीआई में भर्ती करने के बाद उनकी रिकवरी हो रही थी। इसी बीच सेप्सिस के कारण उन्हें सांस लेने में समस्या हुई। उनके फेफड़ों में परेशानी बढ़ गई। ऐसे में 18 जलाई को उन्हें हाई प्रेशर ऑक्सीजन मास्क से नॉन इनवेसिव वेंटिलेशन (एनआईवी) पर रखा गया है।

इंफेक्शन कंट्रोल के लिए एंटीबायोटिक और एंटीफंगल दवाइयां भी दी जा रही हैं। 20 जुलाई की रात उनकी तबीयत और खराब हो गई इसीलिए उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया। अब किडनी में भी परेशानी देखी जा रही है। ऐसे में उन्हें डायलिसिस पर रखा गया है। उन पर एक्सपर्ट डॉक्टरों का पैनल लगातार नजर रख रहा है।

21 जून को पूर्व सीएम कल्याण सिंह की तबियत अचानक बिगड़ी थी। उन्हें लखनऊ के लोहिया संस्थान में भर्ती करवाया गया था। जांच के दौरान उनमें अनियंत्रित ब्लड शुगर, एक्यूट बैक्टीरियल इंफेक्शन की शिकायत पाई गई।

साथ ही मस्तिष्क के सीटी स्कैन में खून का थक्का पाया गया। इसके अलावा माइनर हार्ट अटैक के भी लक्षण पाये गये थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दखल के बाद उन्हें उसी दिन पीजीआई में शिफ्ट किया गया।



Related