पुणेः फैक्ट्री में आग लगने से 15 महिलाओं समेत 17 की मौत, मृतकों के परिजनों को 2 लाख की सहायता राशि


पुणे के घोटावडे फाटा स्थित सैनिटाइजर बनाने वाली एक फैक्ट्री में सोमवार की शाम करीब 5 बजे भीषण आग लग गई। इस भीषण अग्निकांड के कारण फैक्ट्री में फंसी 37 में से 15 महिला और 2 पुरुष कर्मचारियों की मौत हो गई।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :
pune-fire-incident

पुणे। पुणे के घोटावडे फाटा स्थित सैनिटाइजर बनाने वाली एक फैक्ट्री में सोमवार की शाम करीब 5 बजे भीषण आग लग गई।

इस भीषण अग्निकांड के कारण फैक्ट्री में फंसी 37 में से 15 महिला और 2 पुरुष कर्मचारियों की मौत हो गई।

पीएम मोदी ने मृतकों के परिजनों के प्रति शोक संवेदना प्रकट करने के साथ मरनेवालों के परिवार को 2 लाख रुपये प्रत्येक परिवार सहायता राशि का ऐलान किया है।

दमकल विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, आग पर काबू पा लिया गया है।

दमकल की आठ गाड़ियां घटनास्थल पर मौजूद हैं। गायब कर्मचारियों को खोजने का काम लगातार जारी है।

इससे पहले मौके पर पहुंची दमकल की 3 गाड़ियों और दो दर्जन से ज्यादा फायर ब्रिगेडकर्मी उनके रेस्क्यू का काम कर रहे थे।

बता दें कि सैनिटाइजर में अल्कोहल की मात्रा होती है, जिस कारण से आग बहुत तेजी से फैली।

अभी तक आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं है, लेकिन माना जा रहा है कि शॉर्ट सर्किट एक बड़ी वजह हो सकती है।

पुणे की फैक्ट्री में लगी आग में 17 लोगों की मौत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएम मोदी ने घटना पर अफसोस जताते हुए कहा कि फैक्ट्री में लगी आग से जिन लोगों की जान गंवाई उनके प्रति वह शोक जताते हुए इस दुःखद समय में परिवार के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करते हैं।

पीएम मोदी ने मृतकों के परिजनों के प्रति शोक संवेदना प्रकट करने के साथ मरनेवालों के परिवार को 2 लाख रुपये प्रत्येक परिवार सहायता राशि का ऐलान किया।

यह राशि पीड़ितों को पीएम नेशनल रिलीफ फंड से मिलेगी जबकि इस हादसे में घायल हुए लोगों को पचास हजार रुपये देने का ऐलान किया गया है।

घटना पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी दुख जताया है।



Related