इंदौर में MPPSC अभ्यर्थियों ने अपनी मांगों को लेकर लगाए ‘CM लापता’ के पोस्टर


MPPSC अभ्यर्थियों ने अपनी मांग सीएम शिवराज सिंह चौहान तक पहुंचाने और उनकी मांगों का निराकरण करने के उद्देश्य से ऐसे पोस्टरों को इंदौर के विभिन्न क्षेत्रों में लगाया है।


देश गांव
इन्दौर Published On :
cm missing poster

इंदौर। पूर्व सीएम कमलनाथ के गृहक्षेत्र छिंदवाड़ा के बाद अब इंदौर के विभिन्न क्षेत्रों में लगाए गए वर्तमान सीएम शिवराज सिंह चौहान के लापता होने वाले पोस्टरों को देखकर शहरवासी भी चौंक गए।

दरअसल MPPSC अभ्यर्थियों ने अपनी मांग सीएम शिवराज सिंह चौहान तक पहुंचाने और उनकी मांगों का निराकरण करने के उद्देश्य से ऐसे पोस्टरों को इंदौर के विभिन्न क्षेत्रों में लगाया है।

ऐसे ही पोस्टर लगाने का अभियान पूरे प्रदेशभर में चलाने की तैयारी MPPSC अभ्यर्थी कर रहे हैं। दरअसल, अपनी विभिन्न मांगों को लेकर MPPSC अभ्यर्थी पहले भी मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर चुके हैं, लेकिन उनकी मांगों का निराकरण नहीं हो पाया है। इसके कारण ही अब इन अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री के लापता होने के पोस्टर प्रदेशभर में लगाने का निर्णय लिया है।

सीएम चौहान के लापता होने संबंधी ये पोस्टर इंदौर के भंवरकुआं, चितावद, भोलाराम उस्ताद मार्ग सहित स्टूडेंट्स बहुल क्षेत्रों में लगाए गए हैं। ये पोस्टर इन क्षेत्रों में कोचिंग सेंटरों के बाहर, दीवारों पर, बिजली के पोल सहित अन्य स्थानों पर लगाए गए हैं।

इसके साथ ही अन्य स्थानों पर भी पोस्टर लगाने की तैयारी अभ्यर्थी कर रहे हैं। अभ्यर्थियों का कहना है कि मांगें पूरी नहीं होने से कई अभ्यर्थी मानसिक रूप से परेशान हैं। अभ्यर्थियों ने पूरे प्रदेशभर में ये पोस्टर लगाने की रूपरेखा तैयार की है। हालांकि बताया जा रहा है कि इसमें कुछ बदलाव किया जा रहा है।

अभ्यर्थियों द्वारा जो पोस्टर तैयार किया गया है कि उसमें लिखा है –

छात्रों के लिए मामा हुए लापता। मामा लापता हैं, छात्रों को मिल नहीं रहे हैं ना ही छात्रों की आवाज सुन रहे हैं, 4 साल से वैकेंसी निकाल नहीं रहे हैं। MPPSC 2019-20 का रिजल्ट निकलवा नहीं रहे हैं। MPPSC 2021 की वैकेंसी का भी कोई पता नहीं है। PEB की भर्तियां 3-4 साल से निकल नहीं रही हैं। इससे MPPSC और PEB के स्टूडेंट्स डिप्रेशन में हैं। जिस भी सज्जन को मामा जी दिखे उन्हें ये जानकारी दें। अभ्यर्थियों ने पोस्टर में एक अनोखा इनाम भी घोषित किया है। पोस्टर में लिखा है कि जो भी मामा तक हमारी बात पहुंचाएगा उसे लाखों अभ्यर्थियों की दुआएं लगेंगी (बेरोजगार हैं पैसे नहीं हैं हमारे पास)।



Related