बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा का कमलनाथ पर हमला, कक्कड़ और मृगलानी पर सवाल


मतदान से ठीक पहले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से ये सवाल दरअसल कांग्रेस सरकार के नकारात्मक पहलुओं पर लोगों का ध्यान करने की बड़ी कोशिश है। जिसमें ‘ट्रांसफर उद्योग’ को खास निशाना बनाया गया है। ये वे मामले हैं जिन पर कांग्रेस बात करने से बचती है।


देश गांव
भोपाल Updated On :

भोपाल। उपचुनाव के दौरान सियासी हमलों का सिलसिला लगातार जारी है। इस बीच भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा ने इस बार पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर सीधा हमला बोला है।ये हमला कमलनाथ के मुख्यमंत्री कार्यकाल के दौरान उपजे विवादों पर फोकस है और साथ ही कमलनाथ की पूरी छवि को भी धक्का पहुंचाने की बड़ी कोशिश है।

मतदान से ठीक पहले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से ये सवाल दरअसल कांग्रेस सरकार के नकारात्मक पहलुओं पर लोगों का ध्यान करने की बड़ी कोशिश है।

जिसमें ‘ट्रांसफर उद्योग’ को खास निशाना बनाया गया है। शर्मा ने कमलनाथ सरकार के सबसे स्याह पहलू पर हमला किया है। जिन पर अमूमन कांग्रेस बात करने से बचती है।

उन्होंने कहा कि  उस दौरान अधिकारियों-कर्मचारियों के बड़े पैमाने पर ट्रांसफर किए गए थे। कई अधिकारियों के तो थोड़े दिनों के अंदर कई बार ट्रांसफर कर दिए जाते थे।

एक प्रेसवार्ता में प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के नेता कमलनाथ को कई बार देश का दूसरे नंबर का उद्योगपति बताते हैं लेकिन कमलनाथ जी अपने घोषणापत्र में कह चुके हैं कि उनका कोई उद्योग नहीं है तो फिर उन्हें उद्योगपति कहना भी गलत है।

उन्होंने कहा कि कमलनाथ खुद ही घोषणापत्र में अपनी संपत्ति 173 करोड रुपए बता चुके हैं और यह भी साफ कर चुके हैं कि उनके पास राजनीति के अलावा कोई काम-काज नहीं है।

इस पर सवाल किया कि जब कमलनाथ के पास कोई उद्योग नहीं कोई व्यापार नहीं तो उन्होंने राजनीति से इतनी संपत्ति कैसे अर्जित की।

अगर कमलनाथ जी उद्योगपति नहीं तो 173 करोड़ रुपये के मालिक कैसे बने?

इस दौरान बीडी शर्मा ने कमलनाथ के निजी सहायकों पर भी निशाना साधा। उन्होंने कमलनाथ के विशेष सहयोगी रहे  आर के मृगलानी और उनके ओएसडी रहे प्रवीण कक्कड़ के अलावा संजू मंटाना और गोपाल रेड्डी  के बारे में भी सवाल किए।

शर्मा ने पूछा कि कमलनाथ बताएं कि इन सबसे उनका क्या रिश्ता है। उल्लेखनीय है कि कमलनाथ के मुख्यमंत्री रहने के दौरान कक्कड़ और मृगलानी पर आयकर विभाग ने छापे मारे थे।

बीडी शर्मा ने बताया कि इन छापों में मृगलानी के पास 281 करोड़ों रुपए की संपत्ति बताई गई थी। मृगलानी, कमलनाथ के सबसे ख़ास माने जाते हैं।

कहा जाता है कि कमलनाथ उनकी राय पर ही मध्यप्रदेश की राजनीति केअपने महत्वपूर्ण निर्णय लेते हैं। मृगलानी का छिंदावाड़ा में बड़ा कारोबार बताया जाता है।

आर.के. मृगलानी

इस दौरान शर्मा ने प्रवीण कक्कड़ को खास निशाने पर लिया उन्होंने कहा कि  प्रवीण कक्कड़ की थर्ड आई क्या है।

उल्लेखनीय है कि इस साल शुरुआत में कक्कड़ पर आयकर के छापों ने भी खूब सुर्खियां बटोरीं थीं।

प्रवीण कक्कड़

इंदौर में रहने वाले कक्कड़ एक बड़े व्यापारी के रूप में जाने जाते थे पहले वे पुलिस में नौकरी करते थे।इसके बाद नौकरी छोड़कर कक्कड़ ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया का साथ पकड़ा और उनके ओएसडी बन गए।कक्कड़ फिर व्यापार जगत में बड़ा नाम पाते रहे। दोनों ही पार्टियों में बड़े नेताओं से उनके काफी मधुर संबंध बताए जाते हैं।

 



Related