जमीन घोटाले में आरोपी फरार जैन दंपति की संपत्तियां कुर्क, 50 हजार का इनाम है घोषित


– पुलिस के हाथों से दूर अभी भी फरार है जैन दंपति, कब पकड़े जाएंगे ये।
– सुधीर जैन और आयुषी जैन के मकान की संपत्तियों को कुर्क करने की कार्रवाई।


DeshGaon
धार Published On :
land scam accused

धार। शुक्रवार को राजस्व अमले ने न्यायालय के आदेश पर अपराधिक मामले में फरार दो आरोपियों की संपत्ति कुर्क की कार्रवाई की। इस दौरान पुलिस द्वारा सौंपे गए संपत्ति रिकॉर्ड के तहत काशीबाग कॉलोनी स्थित मकान और भूमि पर कुर्की वारंट चस्पा किए गए हैं।

मकान पर ताला लगा हुआ था और भूमि लावारिस स्थिति में थी। इन दोनों संपत्तियों के गेट पर नोटिस चस्पा की कार्रवाई की गई। इस दौरान तहसीलदार विनोद राठौर, कोतवाली थाना प्रभारी समीर पाटीदार सहित पटवारी अमला और पुलिस के अन्य कर्मी मौजूद थे।

अस्पताल खाली करने के लिए दिया समय –

कार्रवाई टीम ने शुक्रवार को फरार आरोपी सुधीर जैन और आयुषी जैन के मकान की संपत्तियों को कुर्क करने की कार्रवाई की। इस दौरान कलेक्टोरेट मार्ग स्थित जैन की प्रॉपर्टी जिसमें मेवाड़ हॉस्पिटल संचालित हो रहा था, पर भी टीम पहुंची थी।

यहां पर अनुबंध की जानकारी निकाली गई जिसमें सुधीर जैन द्वारा अनुबंध करना पाया गया। इसके बाद किराये संबंधी जानकारी ली गई और अस्पताल प्रबंधन को हॉस्पिटल खाली करने के लिए एक सप्ताह की मोहलत दी गई।

हालांकि अस्पताल की ओर से मौजूद अजय नामक शख्स ने बताया कि मेवाड़ हॉस्पिटल की यूनिट धार से बंद की जा रही है। यहां पर वर्तमान में एक भी मरीज नहीं है। नए मरीज भर्ती नहीं किए जा रहे हैं।

फर्नीचर एवं अन्य सामान को हटाने के लिए 8-10 दिन का समय लगेगा जिसके बाद टीम ने उनसे 15 दिन में पूरा भवन खाली करने का पत्र लिखवाया है।

जहां सर्चिंग की वह मकान सील नहीं –

कुर्की की कार्रवाई शुक्रवार को काशीबाग क्षेत्र के एक मकान से की गई। इस मकान से पुलिस ने कोर्ट से अनुमति लेकर जमीन घोटाले से संबंधित दस्तावेज ढूंढने के लिए सर्चिंग की थी। इस मकान की सुधीर जैन के वास्तविक निवास के तौर पर पहचान थी।

कुर्की दल ने जब इस मकान की जानकारी जुटाई तो यह संपत्ति दूसरे के नाम पर दर्ज पाई गई जिसके बाद यहां पर कुर्की की कार्रवाई नहीं की गई है।

उल्लेखनीय है कि करीब 11 संपत्तियां सहित कुछ वाहन चल-अचल संपत्ति की जानकारी के तौर पर पुलिस के पास रिकॉर्ड में है। इसमें तीन संपत्तियों पर पुलिस पहुंची थी। दो को कुर्क किया गया और एक को खाली करने के लिए रियायत दी गई है। शेष कार्रवाई शनिवार को की जाएगी।

50 हजार का इनाम है घोषित –

कोर्ट के आदेश पर कुर्की की कार्रवाई जनकल्याण हितार्थ दान की जमीन की अफरा-तफरी मामले में दर्ज प्रकरण में फरार रहने पर की गई है। इसके पूर्व पुलिस ने जैन दंपत्ति पर करीब 50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा है।

करीब 10 महीने से गिरफ्तारी के प्रयास के बावजूद जैन दंपत्ति पकड़ में नहीं आए हैं जिसके बाद पुलिस ने धारा 83 में संपत्ति कुर्की के लिए कोर्ट में आवेदन लगाया था। इसको लेकर कोर्ट ने कुर्की आदेश जारी किए थे।