मां के सामने ही आठ साल के मासूम को उतारा मौत के घाट

देश गांव
घर की बात Updated On :
dhamnod murder
घटना के बाद मौके पर पहुंचा पुलिसबल


धामनोद। धामनोद से आठ किलोमीटर दूर ग्राम ढाबला के कटारापुरा में सोमवार की सुबह चौथी कक्षा में पढ़ने वाले आठ वर्षीय अमित पिता दुलीचंद का उसकी मां के ही सामने मामा ससुर हीरालाल पिता सूखा कटारे ने बेरहमी से कत्ल कर दिया।

हत्या के आरोपी ने पुरानी रंजिश के कारण मासूम के सीने पर गैती से लगातार पांच वार किए, जिससे वह लहुलूहान हो गया। खून से लथपथ बच्चे को देखकर बेबस मां ने सभी को पुकार लगाई, लेकिन जब तक लोग वहां पहुंचे तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

स्वजन व ग्रामीण मासूम को नगर के स्वास्थ्य केंद्र लेकर आए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित किया। पोस्टमार्टम कर शव स्वजनों को सौंपा गया।

थाने पर शिकायत दर्ज कराने पहुंचे शिवराम पुत्र अमरसिंह ने पुलिस को बताया कि

मेरी काकी यानी संगीता बाई के चिल्लाने की आवाज सुनकर मैं घर से बाहर निकला। इस दौरान मेरा काका घर पर नहीं था। पड़ोस में ही रहने वाला हीरालाल पुत्र सूखा कटारे मिट्टी खोदने वाली गैती से बालक पर वार कर रहा था। मैं रोकने पहुंचा, लेकिन तब तक आरोपित हथियार लेकर भाग गया। चीख-पुकार सुनकर मोहल्ले के ही कैलाश व लक्ष्मण भी वहां पहुंचे।

शिवराम के मुताबिक, आपसी रंजिश के कारण हीरालाल ने पूर्व में हमारी दादी को भी फालिया मारकर घायल कर दिया था।

पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. संजय पाटीदार ने बताया कि

धारदार हथियार से किए गए वार बहुत गहराई तक थे। बच्चे ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था।

जानकारी के मुताबिक, नशे में धुत हीरालाल पुरानी रंजिश की वजह से परिवार के अमित व संगीता बाई के पीछे धारदार हथियार लेकर दौड़ा, लेकिन संगीता बाई अपनी जान बचाकर भाग गई।

हत्यारे के हाथ अमित लग गया और उसने उसके सीने पर गैती से पांच वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। ताकत से किए गए वार से हथियार बच्चे की छाती से पीठ तक बाहर निकल गया। उसकी पीठ में पांच वार के अलग-अलग निशान दिख रहे थे।

घटना के समय अमित का पिता दुलीचंद ट्रैक्टर के लिए डीजल लेने गया था। मोबाइल पर कॉल कर उसे घटना की खबर दी गई। इसके बाद वह मौके पर पहुंचा। आरोपित फिलहाल फरार है और पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी है।



Related