कोरोना हॉटस्पॉट बना इंदौर, अब भीड़भाड़ भरे आयोजनों की मनाही


इंदौर शहर में कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। इस स्थिति को देखते हुए स्थानीय प्रशासन खासा परेशान है। जिसके बाद कलेक्टर ने विवाह समारोह आदि आयोजनों के लिए कुछ सख्त नियम बनाए हैं।


देश गांव
सबकी बात Updated On :

भोपाल। प्रदेश में कोरोना के 1701 नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य संचालनालय द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक इंदौर में 586 और भोपाल में 349 कोरोना संक्रमित मिले हैं। हालांकि इंदौर प्रशासन के द्वारा जारी हालिया रिपोर्ट में नए संक्रमितों की संख्या 565 है। यहां कोरोना के मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं जिसे लेकर स्थानीय प्रशासन परेशान है। इसके बाद यहां कुछ कठोर निर्णय लिए जा रहे हैं।

सोमवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक ग्वालियर में 108 और जबलपुर में 47 नए संक्रमित पाए गए हैं। सागर जिले में संक्रमितों की संख्या 44 है तो रतलाम में 65 और उज्जैन में 39 संक्रमित पाए गए हैं। ज्यादा संख्या वाले दूसरे जिलों में खरगोन 28, रीवा 34, शिवपुरी 23, विदिशा 37, देवास 28, सीधी 29 शामिल हैं। सोमवार को कोरोना संक्रमण के चलते 10 लोगों की मौत भी दर्ज की गई है।

 

प्रदेश भर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने शादी समारोहों में अधिकतम ढाई सौ लोगों के शामिल होने की अनुमति दी है वहीं बारात में 50 से अधिक लोगों को लाना नियम विरुद्ध माना जाएगा। यही नियम अंतिम यात्रा में शामिल होने वाले लोगों के लिए भी होगा।

कलेक्टर द्वारा जारी नए नियमों के मुताबिक वैवाहिक कार्यक्रमों के लिए रात दस बजे तक का समय तय किया गया है। इसके बाद आयोजन बंद करने की जिम्मेदारी आयोजक, आयोजन स्थल के मालिक, टेंट संचालक और केटरर की होगी।

कलेक्टर के आदेश के बाद उनके कार्यालय में लोगों की लाइन लग गई। यहां लोग विवाह कार्यक्रमों को आयोजित करने की  अनुमति लेने के लिए आए थे।



Related