MP उपचुनाव: कांग्रेस की EC को चिट्ठी, मतगणना के दौरान चुनाव अधिकारी के मोबाइल पर लगे रोक


चुनाव आयोग के भेजे गए पत्र में कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश का हवाला दिया है, जिसमें कहा गया है कि पांच ईवीएम के रिकॉर्ड का वीवीपैट से मिलान किया जाए। इस दौरान कोई भी गड़बड़ी या रिकॉर्ड में अंतर आने पर सभी ईवीएम के रिकॉर्ड का वीवीपैट से मिलान किया जाए। इसके अलावा कांग्रेस चाहती है कि जिस कक्ष में पोस्टल बैलेट की गणना हो उसी में ईवीएम की गणना होनी चाहिए।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

मध्यप्रदेश के 28 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव के परिणाम आने के पहले  कांग्रेस ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर मतगणना में गड़बड़ी की आशंका जताते हुए चुनाव अधिकारियों के मोबाइल उपयोग पर प्रतिबंध और स्ट्रांग रूप की लाइव रिकॉर्डिंग कराने की मांग की है।

इसके लिए कांग्रेस के पांच बड़े नेता, कपिल सिब्ब्ल, दिग्विजय सिंह, विवेक तन्खा, मुकुल वासनिक और एडवोकेट वरुण के चोपड़ा ने चुनाव आयोग को एक 34 पेज का पत्र लिखा है।

चुनाव आयोग के भेजे गए पत्र में कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश का हवाला दिया है, जिसमें कहा गया है कि पांच ईवीएम के रिकॉर्ड का वीवीपैट से मिलान किया जाए। इस दौरान कोई भी गड़बड़ी या रिकॉर्ड में अंतर आने पर सभी ईवीएम के रिकॉर्ड का वीवीपैट से मिलान किया जाए। इसके अलावा कांग्रेस चाहती है कि जिस कक्ष में पोस्टल बैलेट की गणना हो उसी में ईवीएम की गणना होनी चाहिए।

पत्र में मतगणना स्थल पर अधिकारी-कर्मचारियों के मोबाइल यूज पर बेन की मांग की गई है। पत्र में कहा गया है कि ईवीएम की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएं। कांग्रेस ने नेताओं ने अपने पत्र में गड़बड़ी की आशंका होने पर चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों को स्ट्रांग रूप में प्रवेश की अनुमति देने की मांग भी की है। इसके अलावा मतगणना शुरू होने से पहले उम्मीदवार के एजेंट को ईवीएम की सील चेक कराने की मांग रखी है।

 



Related