दिल्ली: डिप्टी CM ने कहा-“श्रमिक सिर्फ 1076 पर डायल करें, घर बैठे हो जायेगा पंजीकरण


उप मुख्यमंत्री ने कहा-“हमने निर्णय लिया गया है कि अब निर्माण श्रमिकों का पंजीकरण डोर-स्टेप डिलीवरी के जरिए होगा। ये सेवा आज से ‘1076’ हेल्पलाइन पर शुरू होगी। अब किसी भी निर्माण श्रमिक को सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा।”


देश गांव
बड़ी बात Published On :

दिल्ली सरकार ने निर्माण मजदूरों के लिए बड़ी घोषणा की है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि अब सिर्फ एक नंबर डायल करने पर निर्माण क्षेत्र के मजदूरों को सरकारी योजनाओं के लिए घर बैठे पंजीकरण हो जाएगा। मनीष सिसोदिया ने कहा, “श्रमिक सिर्फ 1076 नंबर पर डायल करें और बताए कि वो दिल्ली में निर्माण श्रमिक हैं और सरकार की योजनाओं में पंजीकृत करना चाहते हैं तो सरकार का अधिकारी उसके घर जाएगा और उसके सारे दस्तावेज वही अपलोड कर लेगा और ये ऑनलाइन स्वीकृत हो जाएगा और उसे एक SMS प्राप्त हो जाएगा।

 

उप मुख्यमंत्री ने कहा-“हमने निर्णय लिया गया है कि अब निर्माण श्रमिकों का पंजीकरण डोर-स्टेप डिलीवरी के जरिए होगा। ये सेवा आज से ‘1076’ हेल्पलाइन पर शुरू होगी। अब किसी भी निर्माण श्रमिक को सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा।”

आज प्रेस से बात करते हुए मनीष सिसोदिया ने कहा कि, जब कोई निर्माण कार्य होता है तो कंस्ट्रक्शन कम्पनी को कंस्ट्रक्शन सेस देना होता है , वो सारा पैसा कंस्ट्रक्शन वेलफेयर बोर्ड में आता है और सरकार उस पैसे को कंस्ट्रक्शन लेबर के कल्याण कार्य में लगाती है। किन्तु  यह उस लेबर को मिलेगा जो लेबर बोर्ड के साथ पंजीकृत होगा।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि निर्माण मजदूरों के क्षेणी में जो भी मजदूर आते हैं उन सबको पहले पंजीकृत करवाने के लिए ऑफिसों के चक्कर लगाना पड़ता था। किंतु  दिल्ली सरकार ने  उनके लिए यह आसान बना दिया है। 1076 डायल कर निर्माण मजदूर घर बैठे अपना पंजीकरण करवा सकता है। ऑफिसर खुद उनके घर आकर इस कार्य को करेंगे।



Related