किसान आंदोलन: हरियाणा में कई जगह टोल प्लाजा मुक्त , राजस्थान-हरियाणा से किसानों का दिल्ली मार्च जारी


कृषि कानूनों के खिलाफ गाज़ीपुर बॉर्डर पर किसान डटे हुए हैं। भारतीय किसान यूनियन के नेता ने कहा कि आज हमने टोल प्लाज़ा पर मुफ्त टोल किया है। सरकार बात करने के लिए तैयार हैं लेकिन कृषि कानून वापस लेने को तैयार नहीं है।


देश गांव
बड़ी बात Published On :

नई  दिल्ली।  मोदी सरकार की अड़ियल रवैये की वजह से किसानों का आन्दोलन आज 17 वें दिन में पहुँच चुका है। पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत आज देश के कई टोल प्लाजा मुक्त करवा दिए हैं किसानों ने और राजस्थान, पंजाब, सहित  देश के सभी कोनों से किसान दिल्ली की तरफ बढ़ रहे हैं।वहीं, अंबाला जिले में शंभू टोल प्लाज़ा को आधी रात में ही टोल-फ्री कर दिया था।

शनिवार दोपहर तक इस टोल से वाहनों को मुफ़्त आना-जाना जारी है। चंडीगढ़ से लगे हरियाणा के प्रमुख शहर पंचकूला में चंडी मंदिर टोल प्लाजा भी किसानों ने आंदोलन कर टोल-फ्री करा रखा है।

भारतीय किसान यूनियन के नेता नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने किसानों का आंदोलन के दौरान शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि आंदोलन की कार्रवाइयां अहिंसक और शांतिपूर्ण ढंग से की जाएंगी। किसान संगठनों की ओर से मजदूर यूनियन सीटू ने भिवानी में कितलाना टोल को फ्री करा दिया है।

सोनीपत जिले में दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर स्थित मुरथल टोल से वाहनों को टोल टैक्स के बिना ही निकाला जा रहा है। जींद के बद्दोवाल और खटकड़ में टोल प्लाजा किसानों के आंदोलन के कारण टोल-फ्री हो चुके हैं।

राजस्थान के नागौर से आरएलपी नेता हनुमान बेनीवाल ने दिल्ली की तरफ  मार्च शुरू किया, कठपुतली में हजारों किसान मिलेंगे फिर आगे की यात्रा तय करेंगे।

कृषि कानूनों के खिलाफ गाज़ीपुर बॉर्डर पर किसान डटे हुए हैं। भारतीय किसान यूनियन से श्यामसुंदर ने बताया, “आज हमने टोल प्लाज़ा पर मुफ्त टोल किया है। सरकार बात करने के लिए तैयार हैं लेकिन कृषि कानून वापस लेने को तैयार नहीं है।

इधर उत्तर प्रदेश पुलिस ने दावा किया है कि आगरा सहित पूरे राज्य में टोल प्लाजा सही और सामान्य तरीके से काम कर रहे हैं और कहीं कोई ट्राफिक नहीं रुका है न ही कुछ अन्य घटना की सूचना है।

यूपी के एडीजी ने कहा कि,  जगह -जगह सुरक्षा बल तैनात किये गये हैं ताकि कोई शरारती तत्व आन्दोलन में न घुस आये और नागरिक जीवन पर कोई प्रभाव न पड़े। जो भी असामाजिक तत्व ऐसा करने की कोशिश करेगा उससे सख्ती से निपटा जायेगा।

इस बीच हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला नई दिल्ली में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात करने गये थे।

 

 

 



Related