MP उपचुनाव: कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने शिवराज को बताया कंस, शकुनि और मारीच का निचोड़


मुरैना के जौरा में सभा करने पहुंचे कृष्णम ने कहा- त्रेता में मामा मारीच हुए. द्वापर युग में कंस मामा का नाम रहा. इसके बाद शकुनि मामा ने छल और प्रपंच से पांडवों को बर्बाद कर दिया. तीनों मामाओं का कमीनापन निचोड़ दिया जाए, तो इससे मिलकर शिवराज मामा बनता है.


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

मध्यप्रदेश उपचुनाव में नेताओं की बयानबाज़ी लगातार जारी है. अब कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की तुलना कंस, शकुनि और मारीच से की है. इस सभा में राजस्थान के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी मौजूद थे.

मुरैना के जौरा में सभा करने पहुंचे कृष्णम ने कहा- त्रेता में मामा मारीच हुए. द्वापर युग में कंस मामा का नाम रहा. इसके बाद शकुनि मामा ने छल और प्रपंच से पांडवों को बर्बाद कर दिया. तीनों मामाओं का कमीनापन निचोड़ दिया जाए, तो इससे मिलकर शिवराज मामा बनता है.

कृष्णम इतने पर ही नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा- शिवराज ऐसे व्यक्ति हैं, जो 15 साल सीएम रहे, लेकिन इसके बाद भी उनकी सत्ता की भूख कम नहीं हुई.

कृष्णम ने कहा- पहला मामा मारीच, जिसने रूप बदलकर सीता माता का हरण कराया था. दूसरा मामा कंस, जिसने अपनी सत्ता को बचाने के लिए बहन के बच्चों को मार दिया और तीसरा मामा शकुनि, जिसने छल-फरेब कर पांडवों का सर्वनाश करना चाहा था. इन तीनों मामाओं को मिला दें तो मामा शिवराज बनता है.

भाजपा ने कड़ा ऐतराज जताया

प्रमोद कृष्णम के बयान पर भाजपा ने कड़ा ऐतराज जताया है. भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा है कि कांग्रेस के अधिकृत स्टार प्रचारक प्रमोद कृष्णन ने जिस प्रकार का आपत्तिजनक और शर्मनाक भाषण मुरैना जिले में कांग्रेस के मंच से दिया, वह निंदनीय है. अब कमलनाथ की जिम्मेदारी है कि वह प्रदेश के भांजे-भांजियों से माफी मांगे. साथ ही कृष्णम के प्रचार करने पर प्रतिबंध लगाएं. भाजपा आज चुनाव आयोग से आचार्य कृष्णम की शिकायत करेगी.



Related