निकाय चुनाव की तैयारी में जुटी भाजपा, प्रदेशभर में सवा लाख कार्यकर्ताओं को दे रहे प्रशिक्षण


भाजपा के जिला दफ्तर में दो दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग लगाने की कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। भाजपा 27 नवंबर से 15 दिसंबर तक प्रदेश 1158 मंडलों के 1 लाख 11 हजार 580 कार्यकर्ताओं को मंडल स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।


ब्रजेश शर्मा ब्रजेश शर्मा
घर की बात Updated On :
नरसिंहपुर में भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम

नरसिंहपुर। आने वाले नगरीय और ग्राम निकाय मे चुनाव जीतने के भाजपा ने जमीनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। यहां जिले में 15 मंडलों में से लगभग 11 मंडल की कार्यकारिणी घोषित की जा चुकी है और अब हर मंडल का दो दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग लगाया जा रहा है। जिसमें हर मंडल से 100-100 कार्यकर्ता प्रशिक्षत किए जाएंगे। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष की मानें तो प्रदेश के 1158 मंडलों के 1 लाख 11 हजार 580 कार्यकर्ताओं को मंडल स्तर पर प्रशिक्षण दिए जाने का प्लान है।

भाजपा के जिला दफ्तर में दो दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग लगाने की कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। इस सिलसिले मे बुधवार को बैठक भी हुई। इस बैठक में प्रदेश उपाध्यक्ष विनोद गोंठिया भी पहुंचे। उन्होंने बताया कि भाजपा 27 नवंबर से 15 दिसंबर तक प्रदेश 1158 मंडलों के 1 लाख 11 हजार 580 कार्यकर्ताओं को मंडल स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।

इस प्रशिक्षण के दौरान दस विषयों पर वर्ग होंगे। इस प्रशिक्षण के दौरान पार्टी की रीति-नीति, संस्कार, पार्टी की शुरूआत से लेकर वर्तमान स्थिति सबसे अवगत कराया जाएगा। इस प्रशिक्षण के लिए प्रदेश स्तर के वक्ता भी पहुंचेंगे। राज्यसभा सांसद कैलाश सोनी ने कहा कि कार्यकर्ताओं को पार्टी रीति-नीति और विचारधाराओं से कार्यकर्ताओं को अवगत कराने का यह अभिनव प्रयोग है।

पार्टी जिलाध्यक्ष अभिलाष मिश्रा ने कार्यक्रम की रूपरेखा के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि प्रशिक्षण में जिले के सभी मंडल अध्यक्ष, जनप्रतिनिधि, जिला मंडल पदाधिकारी और नवगठित मंडल कार्यकारिणी सदस्य अनिवार्य रूप से प्रशिक्षण लेंगे। यहां हर मंडल मे कम से कम 100 कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। अलग-अलग तिथि मे वर्ग प्रशिक्षण होंगे। प्रशिक्षण वर्ग प्रभारी राजीव ठाकुर, जिला व्यवस्था नीलकमल जैन बनाए गए हैं।  इसे भाजपा के द्वारा निकाय चुनावों की तैयारियों से संबंधित कवायद बताया जा रहा है।