ईट राइट फेस-2 में प्रथम स्थान प्राप्त करने हेतु संबंधित विभाग करें हरसंभव प्रयास – कलेक्टर डॉ. जैन


पूर्व में ईंट राइट चैलेंज फेस-1 में इंदौर, भोपाल एवं उज्जैन संपूर्ण भारत में क्रमशः प्रथम, तृतीय एवं पांचवां स्थान प्राप्त कर मध्यप्रदेश को गौरवान्वित कर चुके हैं।


देश गांव
धार Published On :
meeting for eat right 2

धार। भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) भारत सरकार नई दिल्ली द्वारा खाद्य सुरक्षा परितंत्र को मजबूत करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय स्तर पर ईंट राईट चैलेंज फॉर डिस्ट्रिक्ट्स फेज़-2 प्रतियोगिता एक मई से 30 सितम्बर 2022 तक आयोजित की जा रही है।

इस संबंध में कलेक्टर डॉं. पंकज जैन ने कलेक्ट्रेट में बैठक ली जिसमें उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिले को ईट राइट फेस-2 में प्रथम स्थान प्राप्त करने हेतु विभाग हरसंभव प्रयास करें।

ईट राइट इंडिया के अंतर्गत खान-पान की अच्छी आदतों के प्रचार-प्रसार करने के लिए विभाग द्वारा फेसबुक एवं इन्स्टाग्राम पर EAT RIGHT DHAR नाम से पेज से लोगों को जागरूक कर प्रतिदिन खान-पान की अच्छी आदतें विकसित करने के लिए जानकारी उपलब्ध कराई जाए।

बैठक में बताया गया कि ईट राइट चैलेंज फेस-2 प्रतियोगिता हेतु मध्यप्रदेश के कुल 25 जिले नामांकित किए गए हैं जिनमें धार जिला भी शामिल है।

कलेक्टर डॉ. जैन ने कहा कि खाद्य सुरक्षा से संबंधित क्षेत्रों को मजबूत करने हेतु चाट-चौपाटी को क्लीन स्ट्रीट फूड हब के रूप में विकसित करने, श्री मोहनखेडा जैन तीर्थ स्थल एवं नित्यानंद आश्रम धार को भोग, सर्टिफिकेशन प्रदान करवाना, शहर में स्थित विभिन्न रेस्टोरेंट, होटल, स्वीट्स शॉप, बेकरी, मीट शॉप आदि को हाइजिन रेटिंग प्रदान करने, हॉस्पिटल, कॉलेज आदि को ईट राइट कैम्पस के रूप में विकसित करने, विभिन्न बड़े स्कूलों को ईट राइट स्कूल के रूप में तैयार करने, कुपोषण को दूर करने हेतु आटा, चावल, तेल आदि का फॉर्टिफिकेशन करने, शहर में स्थित फूट एंड वेजीटेबल मार्केट को क्लीन वेजीटेबल मार्केट के रूप में विकसित करने, खाद्य व्यापारियों को (फूड सेफ्टी ट्रेनिंग एवं सर्टिफिकेशन) प्रदान करने, सही खान-पान की आदतों का डिजिटल मिडिया, टीवी, सिनेमा एवं सोशल मीडिया, सार्वजनिक स्थलों पर सिनेमा हॉल में ईट राइट को प्रमोट करने, सार्वजनिक स्थलो होर्डिंग, पोल कियोस्क, बस स्टेण्ड, एलईडी से ईट राइट का प्रमोशन करवाने की गातिविधियां की जाएं।

साथ ही जिले में खाद्य कारोबार करने वाले कारोबारियों को लाइसेंस/पंजीयन प्रदान की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। बैठक में बताया गया कि यह कार्य 31 सितंबर तक पूरा किया जाना है।

इसमें बेहतर प्रदर्शन करने वाले जिलों को भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) भारत सरकार नई दिल्ली द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा।

इससे पूर्व ईंट राइट चैलेंज फेस-1 में इंदौर, भोपाल एवं उज्जैन द्वारा संपूर्ण भारत में क्रमशः प्रथम, तृतीय एवं पांचवां स्थान प्राप्त कर मध्यप्रदेश को गौरवान्वित करने का मुकाम हासिल हो चुका है।



Related