पीथमपुर का हार्डवेयर व्यापारी ब्लैक में रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचते हुए गिरफ्तार


पीथमपुर के सीएसपी तरुणेंद्र सिंह बघेल के निर्देश पर थाना प्रभारी चंद्रभान सिंह चढ़ार व सब इंस्पेक्टर केएस मंडलोई ने देर रात घेराबंदी कर चंद्रेश जैन को गिरफ्तार कर उसके पास से दो रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए।


आशीष यादव आशीष यादव
धार Published On :
remdesivir-blackmarketing

धार पुलिस कप्तान की टीम को मिली बड़ी सफलता, एक अन्य साथी डॉक्टर फरार।

धार। धार के पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह को सूचना मिली थी कि पीथमपुर के सेक्टर वन में एक व्यापारी रेमडेसिविर इंजेक्शन बाहर से लाकर लोगों को बेच रहा है।

सूचना पर पीथमपुर के सीएसपी तरुणेंद्र सिंह बघेल के निर्देश पर थाना प्रभारी चंद्रभान सिंह चढ़ार व सब इंस्पेक्टर केएस मंडलोई ने देर रात घेराबंदी कर चंद्रेश जैन को गिरफ्तार कर उसके पास से दो रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए।

सब इंस्पेक्टर केएस मंडलोई ने बताया कि चंद्रेश जैन पिता ज्ञानचंद्र जैन हाउसिंग बोर्ड कालोनी पीथमपुर में हार्डवेयर का व्यापारी है और सागर का रहने वाला है।

वह इंजेक्शन दमोह से बेचने के लिए लाया था। यहां पर एक इंजेक्शन की 23000 की कीमत के हिसाब से दोनों इंजेक्शनों को 46 हजार रुपये में बेचना तय हुआ था।

इस इंजेक्शन की कालाबाजारी में पीथमपुर के डॉक्टर नरेंद्र उर्फ आनंद की भी मिलीभगत थी, लेकिन पुलिस ने बेचने से पहले ही व्यापारी को गिरफ्तार कर लिया। इसका डॉक्टर साथी फरार है, जिसकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है।



Related






ताज़ा खबरें