बच्‍चों को दी कानून व बाल संरक्षण नियमों की जानकारी, बाल मित्र कक्ष भी देखा


कार्यक्रम का उद्देश्य बच्चों का पुलिस के प्रति जो नकारात्मक सोच या डर है, उसको दूर करके उनको बाल हितैषी एवं बच्चों को अपनी बात खुल कर रखने के करने के लिए प्रेरित करना था


आशीष यादव आशीष यादव
धार Published On :

धार पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह के निर्देशन में धार पुलिस द्वारा जागरुकता अभियान के तहत शासकीय स्कूल धार के बालक-बालिकाओं को सायबर अपराध, महिला संबंधी अपराध व व्यातायात नियमों की जानकारी दी। पुलिस अधीक्षक धार मनोज कुमार सिंह द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार डॉ. इंद्रजीत बाकलवार के निर्देशन व नगर पुलिस अधीक्षक धार रवींद्र वास्कले के मार्गदर्शन में स्कूल व कालेजों में अध्यनरत छात्र-छात्राओं को महिला संबंधित अपराध, सायबर अपराध, यातायात के नियमों की जानकारी देने के लिए थाना प्रभारी नौगांव निरीक्षक सविता चौधरी, यातायात प्रभारी सूबेदार रोहित निक्‍कम, सायबर शाखा धार प्रभारी भेरुसिंह देवड़ा को निर्देशित किया गया।

महिलाओं के खिलाफ हिंसा उन्मूलन अंतरराष्ट्रीय दिवस के उपलक्ष्य में थाना नौगांव परिसर की मिटिंग हाल में शासकीय जनजातीय कन्या सिनियर छात्रावास, शासकीय जनजातीय संयुक्त कन्या छात्रावास धार, शासकीय जनजातीय संयुक्त बालक छात्रावास धार एवं शासकीय जनजातीय उत्कृष्ट बालक छात्रावास धार के किशोर-किशोरि‍यों का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य बच्चों का पुलिस के प्रति जो नकारात्मक सोच या डर है, उसको दूर करके उनको बाल हितैषी एवं बच्चों को अपनी बात खुल कर रखने के करने के लिए प्रेरित करना था। कार्यक्रम में थाना प्रभारी नौगांव निरीक्षक सविता चौधरी द्वारा बच्चों को बच्चों से संबंधित कानुन, बाल संरक्षण के बारे में विस्तार से बताया गया तथा थाने की बाल मित्र कक्ष का भी अवलोकन कराया गया।

बाल कल्याण पुलिस अधिकारी एसआई फुलकुवंर सिसोदिया द्वारा बच्चों से संबंधित मामले में पुलिस किस तरह कार्य करती है, उसको विस्तार से बताया गया। सायबर शाखा धार प्रभारी भेरुसिंह देवड़ा द्वारा आनलाईन फ्राड़, सोशल मीडिया फ्राड, लोन फ्राड, ओएलएक्स फ्राड, टावर कनेक्शन के नाम पर धोखाधडी आदि के संबंध में सायबर संबंधी विस्तृत जानकारी दी गई तथा सायबर फ्राड हो जाने पर तत्काल “नेशनल सायबर हेल्पलाइन नंंबर 1930” पर अपनी शिकायत दर्ज कराने तथा सायबर क्राइम से बचने के उपाय व सायबर जागरुकता के संबंध में जानकारी दी गई।

यातायात प्रभारी सूबेदार रोहित निक्‍कम द्वारा सड़क पर यातायात नियमों का पालन करने एवं वाहन चलाते समय हेलमेट की अहमियता के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस कार्यक्रम में जिला समन्वयक ममता एचआईएमसी राजेश शर्मा, आरक्षक प्रशांत सिंह चौहान उपस्थित थे।