ग्वालियर में 15 अप्रैल से 22 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू


ग्वालियर में कोरोना संक्रमितों व इनसे मौत के बढ़ते आंकड़ों के बीच प्रशासन व जनप्रतिनिधियों ने हालात को काबू करने के लिए 15 अप्रैल की सुबह 6 बजे से 22 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है।


देश गांव
ग्वालियर Published On :
gwalior-corona-curfew

ग्वालियर। ग्वालियर में कोरोना संक्रमितों व इनसे मौत के बढ़ते आंकड़ों के बीच प्रशासन व जनप्रतिनिधियों ने हालात को काबू करने के लिए 15 अप्रैल की सुबह 6 बजे से 22 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है।

हालांकि, इस दौरान आवश्यक सेवाएं बदस्तूर जारी रहेंगी। वहीं, बेमतलब सड़कों पर तफरीह करने वालों पर सख्ती से अंकुश लगाया जाएगा।

बता दें कि ग्वालियर में बीते तीन दिनों से रोजाना 500 के लगभग मरीज मिल रहे हैं। वहीं बीते 48 घंटे में 21 मौतें होने से प्रशासन के साथ ही स्वास्थ्य विभाग की चिंता भी बढ़ गई है। इतना ही नहीं मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होने से अस्पतालों में भी व्यवस्था चरमराने लगी है।

शनिवार-रविवार के लॉकडाउन के बाद बाजार में उमड़ी भीड़ कोरोना बढ़ने का बड़ा कारण बन रही है। प्रशासन के लाख प्रयास के बाद भी लोग मास्क और शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं कर रहे हैं।

ऐसे में मंगलवार को आपात स्थिति में आपदा प्रबंधन समिति की बैठक बुलाई गई जिसमें जनप्रतिनिधियों को बिगड़ते हालात से अवगत कराने के साथ ही उनके समक्ष कोरोना कर्फ्यू का प्रस्ताव रखा गया।

बैठक में सर्वसम्मति से 15 अप्रैल से कोराना कर्फ्यू लगाने पर निर्णय किया गया। इस कोरोना कर्फ्यू की अवधि सात दिन रहेगी। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को बहाल रखा जाएगा जिससे आम जनता को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो।



Related