लॉकडाउन में भी इंदौर से आकर खुलेआम जुआ खेल रहे 15 जुआरी गिरफ्तार

अरूण सोलंकी अरूण सोलंकी
इन्दौर Published On :
mhow-gambling

महू। जिले में चल रहे संपूर्ण लॉकडाउन में अवैध शराब का परिवहन करने तथा जुआ खेलने वालों के हौंसले कितने बुलंद हैं इसका उदाहरण विगत दो दिनों में देखने को मिला, जब यहां की पुलिस ने दो अलग-अलग मामलों में अवैध शराब और जुआ पकड़ा जिसमें बड़ी संख्या में आरोपी और वाहन जब्त किए गए।

मंगलवार को किशनगंज थाना पुलिस ने एकसाथ दो स्थानों पर दबिश दी जहां से पंद्रह जुआरी के साथ 19 मोटरसाइकिल व एक कार के साथ हजारों रुपये नकदी जब्त किए गए।

नवागत एएसपी पुनीत गेहलोद के मार्गदर्शन में महू शहर व ग्रामीण पुलिस ने जरूर लगातार कार्रवाई कर अवैध कार्यो पर लगाम लगा रही है, लेकिन इस कार्रवाई ने यह भी बता दिया कि संपूर्ण लॉकडाउन में भी यह अवैध गतिविधियां लंबे समय से चल रही थीं।

महू पुलिस ने सोमवार को करीब दो लाख रुपये की देशी अवैध शराब जब्त की तो मंगलवार को किशनगंज पुलिस ने दो स्थानों पर दबिश देकर बड़ी संख्या में जुआरियों को पकड़ा।

एएसपी पुनीत गेहलोद ने बताया कि एसडीओपी विनोद शर्मा के मार्गदर्शन में पहली कार्रवाई महूगांव स्थित दुर्गापीठ मंदिर के पास मुखबिर की सूचना पर की गई। यहां जुआ खेलते पांच आरोपी जिसमें अरूण पिता सुनील खोडे, राज पिता राजेंद्र जाधव, आकाश पिता योगेश कुमार तीनों निवासी सुभाष चौक महूगांव, वैभव पिता मुकेश वर्मा निवासी धारनाका, फारूख पिता रमजान निवासी काकड़ मोहल्ला महूगांव को गिरफ्तार किया जबकि यहां से नानू पिता संतोष निवासी धारनाका, शंभू निवासी धारनाका फरार हो गए।

दूसरी कार्रवाई हरसोला स्थित कुर्बान पहाड़ी के पास बनी टापरी पर की गई। यहां ये कृष्णा पिता राजकुमार रामदेव निवासी छोटा बांगडदा, नवीन चंद्र पिता भोगीलाल परमार निवासी क्लर्क कॉलोनी परदेशीपुरा, प्रवीण पिता राधेश्याम हार्डिया निवासी नौलखा, देवेंद्र पिता नरेंद्र निवासी बोणगंगा, संजय पुत्र सुभाषचंद्र गोयल निवासी अर्चना एवेन्यु रावजी बाजार, हुसैन पिता हैदर अली जूनी इंदौर, अब्दुल पिता गुलाब हैदर निवासी न्यू रानी नगर सिरपुर, मों आकिब पिता अशफाक निवासी छत्रीपुरा, सुमित पिता संजय करनाल निवासी आराधना नगर, जीतू पटेल एमआईजी कॉलोनी को गिरफ्तार किया गया जबकि शाहिद निवासी चंदन नगर मौके का फायदा उठा कर फरार हो गया।

पुलिस ने इन दोनों स्थानों से 82 हजार रुपये नकदी जब्त किए। साथ ही 19 मोटरसाइकिल-स्कूटी और एक कार भी जब्त की। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी शशिकांत चौरसिया, अनिल चाकरे, रविंद्र सगर, मोहन, मुन्नालाल, मुकेश मुगदल, अशोक, रामेश्वर, सुभाष, रणजीत, दीपक, नितेश, गगनजीत, भरत का विशेष सहयोग रहा।

चर्चा है कि जुआरी संपूर्ण लॉकडाउन में इंदौर से महू आकर, जहां तीन थाना क्षेत्र राउ, सिमरोल और किशनगंज की सीमा लगती है, वहां लंबे समय से खेल रहे थे और पुलिस को भनक तक नहीं लगी।

साथ ही इतने अधिक आरोपियों से मात्र कुल 82 हजार रुपये की राशि जब्त होना आश्चर्यजनक है क्योंकि यह आरोपियों के पास कम से कम पांच से सात लाख रुपये होना चाहिए।