ऑनलाइन पढ़ाई के लिए गरीब छात्राओं को अब तक दिए 19 मोबाइल


छावनी परिषद द्वारा संचालित सीबी कन्या विद्यालय की छात्राओं को घर पर अध्ययन करने के लिए मोबाइल की आवश्यकता है। जो परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण मोबाइल नहीं खरीद सकती। जो मोबाइल नहीं होने के कारण अध्ययन नहीं कर पा रही है। इस अपील का असर भी होता नजर आ रहा है।


mobile to poor girls

इंदौर। कोरोना काल में स्कूलों में पढ़ाई ऑनलाइन कराई जा रही है जिसके लिए हर विद्यार्थी के पास मोबाइल होना जरूरी है। लेकिन, शासकीय स्कूलों में अध्ययन करने वाले अधिकांश विद्यार्थी गरीब परिवारों के हैं जो अपने बच्चों को अध्ययन करने के लिए अलग से मोबाइल नहीं दिला सकते।

इनकी मदद के लिए छावनी परिषद ने अभियान करूणा आरंभ कर सहायता की अपील की जिसमें अब नगर के रहवासी, दानदाता व संस्थाओं ने आगे आकर इनकी मदद करते हुए मोबाइल दान करना शुरू कर दिया तथा अब तक उन्नीस मोबाइल दान दिए गए।

छावनी परिषद द्वारा संचालित सीबी कन्या विद्यालय की छात्राओं को घर पर अध्ययन करने के लिए मोबाइल की आवश्यकता है। जो परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण मोबाइल नहीं खरीद सकती। जो मोबाइल नहीं होने के कारण अध्ययन नहीं कर पा रही है। इस अपील का असर भी होता नजर आ रहा है।

पहले रोटरी क्लब ने पांच नए मोबाइल देकर इसकी शुरूआत की। रविवार को आइडियल क्लब, अमरनाथ यात्रा ग्रुप आदि संस्थाओं द्वारा दस मोबाइल दान किए गए। यह मोबाइल बोर्ड उपाध्यक्ष अरूणा दत्त पांडे को भेंट किए गए। इस मौके पर पार्षद कैलाश दत्त पांडे, कार्यालय अधीक्षक सतीश अग्रवाल, अशोक दीक्षित आदि मौजूद थे।

सतीश अग्रवाल ने बताया कि परिषद के पास अब तक 19 मोबाइल जमा हो चुके हैं। वैसे तो पचास मोबाइल की आवश्यकता है। आने वाले दिनों में और भी दानदाताओं व संस्थाओं ने मोबाइल देने की बात कही है।