ऑटो चालक को जिंदा जलाने का प्रयास, चीखें सुनकर लोगों ने बचाई जान


संतोष किसी तरह से बचकर भागे तो इन बदमाशों ने उनका पीछा किया और कुछ आगे जाकर उन्हें फिर पकड़ लिया। इस दौरान उन पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी गई।


देश गांव
इन्दौर Updated On :
ऑटो चालक अनिल का एमवाय अस्पताल में इलाज जारी है. Photo Credit_ DB


इंदौर। शहर के जुनी थाना क्षेत्र में शुक्रवार रात एक ऑटो चालक को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। किसी पुराने विवाद के चलते कुछ बदमाशों ने ऑटो चालक पर पेट्रोल डालकर उसे आग लगा दी।

आग से झुलसता हुए ऑटो चालक की चीखें सुनकर आसपास के लोग दौड़कर उसकी मदद के लिए पहुंचे। लोगों ने उन पर पानी डालकर आग बुझाई और कपड़ों से दबाकर आग को बुझाया।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक जिस ऑटो रिक्शा चालक पर यह हमला किया गया उसका नाम संतोष खुवानी है। संतोष दिन में टिफिन सेंटर की डिलेेवरी देते हैं और रात में ऑटो चलाते हैं।

घटना के समय वह सिंधी कॉलोनी में ऑटो लिकर टिफिन देने के लिए गए थे। इस दौरान जब वह गली नंबर 7 के पास खड़े हुए थे तो कुछ लोग वहां आए और उनके साथ मारपीट करने लगे।

संतोष किसी तरह से बचकर भागे तो इन बदमाशों ने उनका पीछा किया और कुछ आगे जाकर उन्हें फिर पकड़ लिया। इस दौरान उन पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी गई।

उनकी चीखें सुनकर आसपास के लोगों ने उसकी मदद की और जलते हुए शरीर पर पानी डालकर और गीले कपड़े लपेटकर किसी तरह आग बुझाई गई।

हालांकि तब तक संतोष काफी हद तक जल चुके थे। डॉक्टरों के अनुसार संतोष का शरीर 90 फीसद तक जल चुका है। संतोष का इलाज एमवाय अस्पताल में जारी है। जहां उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई है।

पुलिस के मुताबिक संतोष को आग लगाने वालों में लोकेश और प्रिंस नाम के दो युवकों के नाम सामने आए हैं। मामले में अभी और जांच की जा रही है।