MP उपचुनाव परिणाम के बारे में क्या कहता है सट्टा बाज़ार!


मध्य प्रदेश विधानसभा में कुल 230 सीटें हैं। बहुमत के लिए ज़रूरी नंबर 116 है। अभी 28 सीटों के लिए उपचुनाव हो रहे हैं। दमोह के विधायक के इस्तीफ़े के पूर्व तक कांग्रेस के पास 88 सीटें थीं। अब यह संख्या 87 हो गई है। जबकि बीजेपी के पास 107 विधायक हैं। बसपा के दो, सपा के एक और निर्दलीय विधायकों की संख्या चार है।


देश गांव
इन्दौर Updated On :

मध्य प्रदेश विधानसभा की 28 सीटों पर हो रहे उपचुनाव के नतीजों को लेकर इंदौर सट्टा बाजार कांग्रेस को ‘भारी’ बतला रहा है। बाजार के रूख़ के अनुसार कांग्रेस को ज्यादा सीटें मिलने की संभावनाएं बनी हुई हैं। उधर बीजेपी दावा कर रही है कि 22 से 25 के बीच सीटें उसे मिलेंगी। बीजेपी मान रही है कि तीन से छह सीटों पर मुकाबला कड़ा है। जबकि मध्य प्रदेश कांग्रेस और कमल नाथ दावा कर रहे हैं, ‘जनता टिकाऊ के उसके मूल मंत्र को भरपूर तवज्जो दे रही है। बिकाऊ को वोटर एकतरफा हरा रहे हैं।’

मध्य प्रदेश कांग्रेस के दावों के अनुसार सर्वे में कांग्रेस के क्लीन स्वीप संबंधी ख़बरों से बीजेपी बौखलाई और घबराई हुई है। अपनी सरकार को बचाने के लिए बसपा और सपा के अलावा निर्दलीय विधायकों पर भी बीजेपी ने पहले डोरे डाले हैं। अब कांग्रेस विधायकों को तोड़कर नंबर गेम में जुट गई है।

मध्य प्रदेश विधानसभा में कुल 230 सीटें हैं। बहुमत के लिए ज़रूरी नंबर 116 है। अभी 28 सीटों के लिए उपचुनाव हो रहे हैं। दमोह के विधायक के इस्तीफ़े के पूर्व तक कांग्रेस के पास 88 सीटें थीं। अब यह संख्या 87 हो गई है। जबकि बीजेपी के पास 107 विधायक हैं। बसपा के दो, सपा के एक और निर्दलीय विधायकों की संख्या चार है।

तमाम राजनीतिक दाँव-पैंच के बीच मध्य प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने कांग्रेस विधायक राहुल लोधी का इस्तीफ़ा मंजूर कर लिया है। दमोह सीट को रिक्त घोषित करने संबंधी अधिसूचना भी आनन-फानन में जारी कर दी गई है।

बीजेपी के सूत्र दावा कर रहे हैं कि तीन नवंबर (इस दिन उपचुनाव के लिए वोट डाले जायेंगे) के पूर्व कांग्रेस दो से तीन विधायक इस्तीफा देकर बीजेपी में आ सकते हैं। सूत्रों का कहना है, ‘कांग्रेस को नंबरों के खेल में भाजपा इतना पीछे ढकेल देना चाह रही है कि वह विधानसभा के इस कार्यकाल में पुनः सत्ता में पहुँचने की सपने में भी ना सोच पाये।’

(शिव कुमार मिश्र  की रिपोर्ट , स्पेशल कवरेज न्यूज़ से साभार) 

 



Related