कलेक्टर के बाद अब दमोह एसपी से भी छिनी मैदानी पोस्टिंग, उपचुनाव में भाजपा की करारी हार का असर

देश गांव
राजनीति Updated On :

दमोह। उपचुनाव के बाद भाजपा की हार के ज़िम्मेदारों पर कार्रवाई की जा रही है।  शुक्रवार का दिन इसी काम के लिए रहा। इस बीच प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी पर भी कार्रवाई हुई। पहले दोपहर में कलेक्टर तरुण राठी को हटाया गया और रात में एसपी हेमंत चौहान हटा दिये गए। इस बीच जयंत मलैया और उनके बेटे सहित छह नेताओं पर कार्रवाई हो चुकी है।

उपचुनाव के बाद नेताओं पर कार्रवाई तो समझ आती है लेकिन कलेक्टर और एसपी पर हो रही कार्रवाई समझ से बाहर है। इन अधिकारियों के एक साथ हुए इस तबादले को कार्रवाई इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि यह  इन दोनों को ही अब मैदानी पोस्टिंग से हटा लिया गया है।

आईएएस तरुण राठी अब भोपाल में उपसचिव बनकर बैठेंगे तो आईपीएस हेमंत चौहान अब भोपाल में पुलिस मुख्यालय में बैठेंगे। दमोह में अब उनकी जगह पर 2009 बैच के अधिकारी डीआर तेनीवार कमान संभालेंगे।

कांग्रेस ने पहले ही कलेक्टर के तबादले को भाजपा की खिसियाहट बताया था और अब अचानक एसपी का तबादला कांग्रेस के दावे को मज़बूती ही दे रहा है।

इन तबादलों पर आम लोग भी सोशल मीडिया पर लगातार टिप्पणियां कर रहे हैं और इसे उपचुनावों में भाजपा की हार के दुष्परिणाम बता रहे हैं।

 

 



Related