किसान आंदोलनः खट्टर सरकार मुश्किल में, किसानों के मुद्दे पर निर्दलीय विधायक ने वापस लिया सर्मथन


सांगवान ने कहा – “किसानों पर किये गये ज़ुल्म के विरोध में मैं इस सरकार से अपना समर्थन वापस लेता हूँ।”


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

किसानों के मुद्दे पर हरियाणा में खट्टर सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने अपना समर्थन वापस ले लिए है. सांगवान ने कहा – “किसानों पर किये गये ज़ुल्म के विरोध में मैं इस सरकार से अपना समर्थन वापस लेता हूँ।”

दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने सोमवार को पशुधन विकास बोर्ड चेयरमैन के पद से इस्तीफा दिया था। मंगलवार को उन्होंने सरकार से अपना समर्थन भी वापस ले लिया।

सांगवान किसान आंदोलन के समर्थन में सांगवान खाप के साथ मंगलवार सुबह दिल्ली कूच कर गए। सोमवार को सांगू धाम पर खाप की सर्वजातीय बैठक करने के बाद सोमबीर सांगवान ने कहा कि निर्दलीय चुनाव जीतने के बाद सरकार ने उन्हें पशुधन विकास बोर्ड का चेयरमैन बनाया था। किसान आंदोलन को समर्थन देने के चलते उन्होंने सरकार को इस्तीफा भेज दिया है।

गौरतलब है कि,  मोदी सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में  दिल्ली मार्च के लिए पंजाब और हरियाणा के हजारों किसानों को रोकने केलिए हरियाणा की खट्टर सरकार ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। हरियाणा में जगह-जगह बैरिकेड्स लगाये थे  थे, हाईवे तक खुदवा दिए थे, किसानों पर वाटर कैनन से तेज पानी के बौछार और आँसूं गैस के गोले दागे गये थे। हजारों किसानों पर फर्जी मुकदमें और सैकड़ों किसान नेताओं  की गिरफ्तारी करवाई है मनोहर लाल खट्टर सरकार ने।



Related