राहुल गांधी ने केंद्र की अस्पष्ट व विसंगतिपूर्ण नीतियों और अपरिपक्वता को बताया कोरोना विस्फोट का जिम्मेदार


राहुल गांधी ने पत्र में कोरोना से जंग में अहम सुझाव देते हुए लिखा कि देश के सभी नागरिकों का त्वरित वैक्सीनेशन जरूरी है। साथ ही वायरस के विभिन्न रूपों की पहचान कर उस पर प्रभावी वैक्सीन पर काम किए जाने की जरूरत पर भी राहुल गांधी ने जोर दिया।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :
rahul-gandhi

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना के भयावह हालातों से निपटने के लिए केंद्र सरकार को अहम सुझाव देते हुए पत्र लिखा है।

इसके साथ ही राहुल गांधी ने केंद्र की अस्पष्ट और विसंगतिपूर्ण नीतियों और समय से पहले कोरोना से जंग जीत लेने के दावों को कोरोना की विस्फोटक स्थिति के लिए जिम्मेदार बताया है।

राहुल गांधी ने पत्र में कोरोना से जंग में अहम सुझाव देते हुए लिखा कि देश के सभी नागरिकों का त्वरित वैक्सीनेशन जरूरी है। साथ ही वायरस के विभिन्न रूपों की पहचान कर उस पर प्रभावी वैक्सीन पर काम किए जाने की जरूरत पर भी राहुल गांधी ने जोर दिया।

राहुल गांधी ने मौजूदा हालातों के लिए सरकार के अब तक के निर्णयों को जिम्मेदार बताया। उन्होंने लिखा केंद्र सरकार की अब तक की विफलताओं से देश एक बार फिर लॉकडाउन के मुहाने पर आ गया है।

उन्होंने लिखा कि अब देशवासी इस लॉकडाउन को आर्थिक रूप से बर्दाश्त करने की स्थिति में नहीं हैं। ऐसे में सरकार को जरूरतमंदों की आर्थिक मदद के साथ उनकी खाद्यान्न की जरूरतों को पूरा करने पर ध्यान देना चाहिए। जरूरतमंदो की पहचान के लिए पारदर्शी प्रकिया का पालन भी होना चाहिए।

राहुल गांधी ने यह भी लिखा कि यह समय आपदा से एकजुट होकर लड़ने और परास्त करने का है। ऐसे में सरकार को सभी को विश्वास में लेकर आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने भरोसा दिलाया कि संकट के समय वे सरकार के साथ खड़े हुए हैं।

(यह खबर जोशहोश.कॉम से साभार ली गई है)



Related