VIDEO: उप्र के अस्पताल में बच्ची के शव को नोच-नोच खा रहे कुत्ते!


किशोरी के पिता चरण सिंह ने कहा कि जिला अस्पताल में शव की कोई देखभाल नहीं है। इसलिए बेटी के शव को कुत्ते चाट रहे थे। जब वह भाग कर शव के पास पहुंचे तब तक कुत्ता भाग गया था।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के संभल  के सरकारी अस्पताल से  एक दिल दहला देने वाला वीडियो सामने आया है जिसमें स्ट्रेचर पर ढकी एक लाश को कुत्ते नोच-नोच कर खा रहे हैं। समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल से साझा किया गया यह वीडियो उत्तरप्रदेश का बताया जा रहा है। 

इस वीडियो को समाजवादी पार्टी  ने ट्वीट कर लिखा है -“संभल में स्वास्थ्य सेवाओं की रोंगटे खड़े कर देने वाली खौफनाक तस्वीर आई सामने। जिला अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मियों की लापरवाही की वजह से स्ट्रेचर पर रखे बच्ची के शव को कुत्तों ने नोच कर खाया। जांच करा लापवाही बरतने वालों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई। शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदना!”

कुत्ते के शव को नोंचने का वीडियो संभल के जिला संयुक्त चिकित्सालय का बताया जा रहा है बता दें, असमोली थाना क्षेत्र में एक दिन पहले सड़क हादसे में 13 वर्षीय किशोरी की मौत हो गई थी, जिसके बाद उसके शव को जिला अस्पताल लाया गया। जिला अस्पताल में स्ट्रेचर पर सफेद चादर से ढके शव को एक कुत्ता नोंचता रहा। इसका किसी ने वीडियो भी बना लिया।

इस दौरान न कोई कर्मचारी वहां तक पहुंचा और न शव को किसी सुरक्षित स्थान पर रखा गया। जैसे ही कुत्ते के होने की जानकारी किशोरी के पिता को हुई तो वह भागकर मौके पर पहुंचे और अस्पताल कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाया। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह एक आवारा कुत्ता अस्पताल परिसर में रखे शव को नोंच रहा है। शव को नोंचने की वीडियो सामने आने के बाद अधिकारी पूरी तरह से पल्ला झाड़ते नजर आ रहे हैं।

किशोरी के पिता चरण सिंह ने कहा कि जिला अस्पताल में शव की कोई देखभाल नहीं है। इसलिए बेटी के शव को कुत्ते चाट रहे थे। जब वह भाग कर शव के पास पहुंचे तब तक कुत्ता भाग गया था।

पुलिस ने मामले की जांच का आदेश दिया है।

संभल में शव को आवारा कुत्तों के नोंचने का ये पहला मामला नहीं है। 1 नवंबर को जंगली पशु पोस्टमार्टम हॉउस में रखे एक बच्ची के शव की नाक को आवारा कुत्ते नोंच ले गए थे। जिसके बाद सीएमओ अमिता सिंह ने लापरवाही बरतने वाले स्वास्थ्यकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई का दावा किया था, लेकिन अभी तक कोई एक्शन नहीं हुआ है।



Related