एमपी के अलावा अन्य राज्यों में भी लोकप्रिय है लाडली लक्ष्मी योजना – छतर सिंह दरबार


एकल बालिका वाले अभिभावकों को सम्मान पत्र मंच से अतिथियों के माध्यम से वितरित किये गये एवं लाडली लक्ष्मी योजना के हितग्राहियों को लाडली प्रमाण-पत्र एवं प्रस्तुति देने वाली बालिकाओं को प्रशस्ति-पत्र प्रदान किए गए।


देश गांव
धार Published On :
chhatar singh darbar ladli lakshmi yojna

धार। लाडली लक्ष्मी योजनांतर्गत लाभान्वित बालिकाओं एवं उनके अभिभावकों को सम्मानित किये जाने हेतु गुरुवार को लालबाग परिसर जिला धार में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सांसद छतर सिंह दरबार, जिला कलेक्टर डॉक्टर पंकज जैन एवं विशेष अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सरदार सिंह मेडा व जिला उपाध्यक्ष विश्वास पांडे सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा लाडली बालिकाओं का कन्यापूजन किया गया। इसके पश्चात् बालिका इशिता मुकाती द्वारा सरस्वती वंदना पर नृत्य प्रस्तुति दी गई।

कार्यक्रम में सांसद दरबार ने जनसेवा पखवाड़े के तहत लाडली लक्ष्मी योजना के हितग्राहियों को योजनांतर्गत मिलने वाले लाभों से अवगत कराया और बताया कि यह योजना मध्यप्रदेश के अतिरिक्त अन्य राज्यों में भी काफी लोकप्रिय है। अलग-अलग नामों से अन्य राज्यों में भी यह योजना लागू की गई है, जो कि योजना की सफलता को दर्शाता है।

उन्होंने बताया कि सेवा पखवाड़े के तहत 17 सितंबर से 31 अक्टूबर तक संपूर्ण मध्यप्रदेश में हितग्राहीमुलक योजनाओं से लाभान्वित किये जाने हेतु विभिन्न विभागीय शिविरों का आयोजन किया जा रहा है जिससे गरीब वर्ग के प्रत्येक व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचे।

कार्यक्रम के प्रारंभ में जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास सुभाष जैन द्वारा स्वागत उद्बोधन एवं कार्यक्रम की रूपरेखा के संबंध में अवगत कराया गया।

जिला पंचायत अध्यक्ष सरदार सिंह मेडा ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी बालिकाओं को आगे पढ़ने-बढ़ने एवं अपना व अपने माता-पिता का नाम रोशन करने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी लाडली लक्ष्मी योजना के संबंध में अपने विचार व्यक्त किए।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा कार्यक्रम परिसर में बालिकाओं के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कर आवश्यक दवाईयों का वितरण किया गया।

कार्यक्रम में बालिका गौरी पुराणिक द्वारा महिला सशक्तिकरण थीम पर आधारित एकल नृत्य की प्रस्तुति दी गयी। इसके पश्चात “माँ तुझे प्रणाम” अंतर्गत बाघा बॉर्डर पर भ्रमण करने वाली दो लाडलियों खुशी जैन एवं तृप्ति लाड द्वारा अपने भ्रमण संबंधी अनुभव सभी के समक्ष साझा किये गये।

कार्यक्रम में एकल बालिका वाले अभिभावकों को सम्मान पत्र मंच से अतिथियों के माध्यम से वितरित किये गये एवं लाडली लक्ष्मी योजना के हितग्राहियों को लाडली प्रमाण-पत्र एवं प्रस्तुति देने वाली बालिकाओं को प्रशस्ति-पत्र प्रदान किए गए।

कार्यक्रम के अंत में आभार भारती डांगी सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास द्वारा व्यक्त किया गया।



Related