इंदौर में 1824 तो भोपाल में 1802 नए संक्रमित, रेमडिसिविर को लेकर हुए तीख़े सवाल पर तिलमिला गए भाजपाई


प्रदेश सरकार के द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक शनिवार को रिकवरी दर कुछ सुधरी है। हालांकि चौबीस घंटों में यह दर .15 प्रतिशत ही बेहतर हो सकी है।


देश गांव
इन्दौर Updated On :

इंदौर। जिले में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या एक लाख के पार पहुंच चुकी है। जिले में अब तक 1 लाख 1 हज़ार 751 लोग कोरोना वायरस का शिकार हो चुके हैं। वहीं शनिवार को जारी कोरोना बुलेटिन में 1824 नए संक्रमितों की जानकारी दी गई है।

इसके अलावा चार लोगों की मौत दर्ज की गई है। इसके साथ ही शनिवार को 1278 मरीज़ विभिन्न अस्पतालों से डिस्चार्ज होकर अपने घरों को गए हैं। इसके साथ ही अब तक डिस्चार्ज होने वाले कुल मरीज़ों की संख्या 88168 हो चुकी है। जिले में फिलहाल 12484 सक्रिय संक्रमित हैं।

वहीं भोपाल की बात करें तो शनिवार को 1802 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके साथ ही 1004 लोग संक्रमण से ठीक हुए हैं। चौबीस घंटों के दौरान यहां पांच लोगों की मौत हुई है। हालांकि शहर के भदभदा श्मशान घाट पर शनिवार को करीब सौ शवों का अंतिम संस्कार होने की ख़बर है। इनमें से ज्यादातर की मौत का कारण कोरोना संक्रमण ही बताया जा रहा है।

वहीं प्रदेश सरकार के द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक शनिवार को रिकवरी दर कुछ सुधरी है। हालांकि चौबीस घंटों में यह दर .15 प्रतिशत ही बेहतर हो सकी है। इसके साथ ही संक्रमण की दर भी कम हुई है। वहीं संक्रमण को हराकर ठीक होने वालों की संख्या में भी इज़ाफ़ा बताया जा रहा है।

 

 

इससे अलावा इंदौर में भारतीय जनता पार्टी के नेता पत्रकारों के सवालों से नाराज़ नज़र आए।

नगर अध्यक्ष गौरव रणदीवे और मंत्री तुलसी सिलावट से जब रेमेडिसिविर इंजेक्शन की किल्लत को लेकर पत्रकारों ने सवाल पूछे तो मंत्री और नगर अध्यक्ष नाराज़ होकर उठकर चले गए। भाजपाई नेताओं के इस रवैये की ख़ासी आलोचना भी हुई। इस पर कांग्रेस ने ख़ूब तंज़ कसे।