इंदौर में 805 नए संक्रमित, उद्योगों की ऑक्सीजन सप्लाई रोकी


लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्या से अधिकारी परेशान, अब ऑक्सीजन केवल अस्पतालों के लिए


देश गांव
इन्दौर Published On :
Indore covid-19

इंदौर। जिले में कोरोना संक्रमण क आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है और अब यह डराने लगा है। सोमवार की रात को जारी किए गए मेडिकल बुलेटिन में इंदौर 805 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। यह इस दूसरी लहर के दौरान मिला सबसे बड़ा आंकड़ा है जिसेे लेकर शासन-प्रशासन लगातार चिंतित है।

बुलेटिन के मुताबिक फिलहाल इंदौर शहर में कोरोना से अब तक 977 लोगों की मौत हो चुकी है और 5875 मरीज सक्रिय हैं।

उल्लेखनीय है कि इंदौर जिले में संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही रविवार को जहां 788 संक्रमित मिले थे तो वहीं शनिवार को 737 संक्रमित मिले थे, उससे पहले 708 और अप्रैल के पहले दिन 682 संक्रमित मिले थे।

संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है ऐसे में जिले में उनके इलाज के लिए एक नई समस्या सामने नजर आ रही है। खबरों की मानें तो अब तक जिले में अस्पतालों के करीब बिस्तर 77 प्रतिशत बिस्तर भर चुके हैं। यानी आने वाले दिनों में इलाज मुश्किल हो सकता है।

जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए कलेक्टर मनीष सिंह ने भी कई अहम निर्णय लिए हैं। ऐसे में  इलाज के लिए लगने वाले रेमेडिसिवर इंजेक्शन की कालाबाजारी रोकने के लिए निर्देश जारी किए गए हैं। वहीं ऑक्सीजन सिलेंडरों की कालाबाजारी रोकने के लिए भी कलेक्टर ने सख्त कदम उठाने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि ऑक्सीजन का उपयोग फिलहाल औद्योगिक क्षेत्र में नहीं होगा और सभी फैक्ट्रियां केवल अस्पतालों को ही ऑक्सीजन की सप्लाई करेंगे। यह फैसला ऑक्सीजन  की कमी को देखते हुए लिया गया है। कलेक्टर मनीष सिंह ने इसके लिए पीथमपुर की फैक्ट्रियों में इंतज़ाम भी करवाए हैं।