एक पुलिसिंग ये भीः लोगों से चोरी या गुम हुए मोबाइल फोन की ढे़रों शिकायतें, एक पुलिसकर्मी ने अकेले निपटाए सैकड़ों मामले


पुलिस महकमे ने महू सायबर सेल संभाल रहे कॉन्सटेबल रवि तिवारी को किया सम्मानित


अरूण सोलंकी अरूण सोलंकी
इन्दौर Updated On :

प्रचार और चर्चाओं से दूर मुंह की साइबर से पिछले 2 सालों से उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहे हैं बहुत साइबर सेल ने अब तक ढाई सौ से अधिक गुम हुए मोबाइल फोन को तलाश कर जब्त किया है और उनके असल मालिकों तक पहुंचाया है। यही काम करने वाले पुलिसकर्मियों को पिछले दिनों सम्मानित किया गया।

महू के साइबर सेल इन दोनों चर्चाओं से दूर रहकर लगातार अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन कर रही है। साइबर सेल में कांस्टेबल रवि तिवारी ही अकेले पदस्थ हैं लेकिन वे अपनी जिम्मेदारियों को पूरी ईमानदारी से निभा रहे हैं। पुलिस के अनुसार पिछले दो सालों में 1000 से अधिक मोबाइल गुम होने की शिकायतें हुई है जिसमें वर्ष 2023 में 532 तथा 2022 में 565 मोबाइल गुम हुए थे। जिसमें रवि तिवारी ने अपने प्रयासों से ढाई सौ से अधिक गुम हुए मोबाइलों का पता लगाकर उनके मालिकों तक पहुंचाया है।

रवि तिवारी बताते हैं कि कुछ ऐसे भी शिकायतकर्ता है जिनके मोबाइल महू में गुम हुए हैं  लेकिन बाद में उनकी पोस्टिंग या ट्रांसफर अन्य प्रदेश में हो गई है उनके मोबाइल ढूंढ कर कोरियर से उन तक पहुंचाने की जिम्मेदारी भी निभाई है।

इसके अलावा साइबर क्राइम यानी ठगी की शिकायत है महू पुलिस में दर्ज है, रवि तिवारी के अनुसार महीने में 15 से 20 ऐसी शिकायत दर्ज होती हैं जिसमें उन्होंने अब तक लाखों रुपए की वसूली कर पीड़ितों को वापस लौटई है। इसके साथ ही सोशल मीडिया फ्रॉड की शिकायतें भी लगातार हो रही है, जिसमें आईडी हैक करना फर्जी आईडी बनाकर ब्लैकमेल करना तथा पैसे की मांग आदि प्रमुख हैं। इसमें सबसे अधिक शिकार महिलाएं या अयोध्या होती है जिनके अकाउंट आईडी हैक कर उन्हें परेशान किया जाता है या फिर ब्लैकमेल किया जाता है। इस दिशा में भी साइबर सेल ने उत्कर्ष कार्य किया तथा लगभग हर शिकायतों का निराकरण किया है। ऐसी शिकायतों का भी तत्काल प्रमुखता पर निराकरण किया गया है। इनमें शिकायतकर्ता का नाम व जानकारी पूरी तरह गोपनीय रखी जाती है।

रवि तिवारी को इस दिशा में उत्कर्ष कार्य करने पर इंदौर में सम्मानित भी किया गया है यह पहला मौका होगा जब महू साइबर सेल को यह सम्मान मिला है।

इस संबंध में महू एएसपी रूपेश कुमार द्विवेदी ने कहा कि रवि तिवारी लगातार पूरी जिम्मेदारी और ईमानदारी के साथ काम कर रहे हैं। यही कारण है कि महू तहसील में होने वाले इस प्रकार की शिकायतों में से अधिकांश का निराकरण कर दिया गया है ।वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें एक कार्यक्रम में सम्मानित भी किया गया जो बधाई के पात्र हैं।