राकेश टिकैत और मेधा पाटकर पर हुए हमलों से नाराज़ किसान संगठन, सोमवार को करेंगे प्रदर्शन


अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति और संयुक्त किसान मोर्चा की इंदौर इकाई से जुड़े संगठन अखिल भारतीय किसान सभा, मध्य प्रदेश किसान सभा, किसान संघर्ष समिति, किसान खेत मजदूर संगठन, एटक और सीटू ने की बैठक।


देश गांव
इन्दौर Published On :

इंदौर। किसान नेता राकेश टिकैत पर राजस्थान के अलवर में, मेघा पाटकर के नेतृत्व में निकली मिट्टी सत्याग्रह यात्रा पर गुजरात में हुए हमले और रोहतक में किसानों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर लाठीचार्ज की घटनाओं की हर ओर निंदा हो रही है। इसे लेकर इंदौर के सामाजिक कार्यकर्ता और किसान संगठन भी नाराज़ हैं।  किसान संगठनों ने इस घटना को लेकर एक विरोध प्रदर्शन आयोजन किया है। जिसके तहत इंदौर कमिश्नर कार्यालय में  इन घटनाओं के विरोध में सोमवार को प्रदर्शन कर ज्ञापन देंगे।

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति और संयुक्त किसान मोर्चा की इंदौर इकाई से जुड़े संगठन अखिल भारतीय किसान सभा, मध्य प्रदेश किसान सभा, किसान संघर्ष समिति, किसान खेत मजदूर संगठन, एटक और सीटू की बैठक में इन घटनाओं पर रोष जाहिर करते हुए कार्यकर्ताओं ने कहा कि यह हमले भाजपा और उसकी सरकार की हताशा का परिणाम है। पिछले 128 दिन से चल रहे किसान आंदोलन के लगातार हो रहे मजबूत आधार के चलते सरकार बौखला गई है और इस तरह से हमले करवा रही है।

इन संगठनों के सदस्यों ने कहा कि  इन सभी हमलों से  किसान आंदोलन टूटने वाला नहीं है बल्कि उसे और मजबूती मिलेगी।  बैठक में तय किया गया कि सोमवार को इन घटनाओं के विरोध में संभागायुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया जाएगा ।

इस बैठक में अरूण चौहान ,रामस्वरूप मंत्री, कैलाश लिंबो दिया, सोहनलाल शिंदे , हरिओम सूर्यवंशी ,सीएल सरावत, माता प्रसाद मौर्य, सत्यनारायण वर्मा, रमेश झाला, भागीरथ कछवाय, सहित बड़ी संख्या में किसान और मजदूर संगठनों से जुड़े हुए कार्यकर्ता शरीक थे । बैठक में तय किया गया है कि किसान आंदोलन के समर्थन में इंदौर में भी जन जागरण अभियान चलाया जाएगा और इस तरह के हमलों को जनता के बीच में ले जाकर भाजपा और उसकी सरकार की नाकामियों को उजागर किया जाएगा ।