इंदौर पहुंचा रेमडिसिवर का 25 हजार वायल्स, जिले को मिला करीब 9 हजार इंजेक्शन


इंदौर में रविवार सुबह को पांच हजार रेमडिसिवर इंजेक्शन एयर कार्गो के माध्यम से पहुंचे। फिर शाम को 20 हजार इंजेक्शन एमजीएम मेडिकल कॉलेज के पास पहुंचे।


DeshGaon
इन्दौर Updated On :
mylan-remedisiver

इंदौर। इंदौर में रविवार सुबह को पांच हजार रेमडिसिवर इंजेक्शन एयर कार्गो के माध्यम से पहुंचे। फिर शाम को 20 हजार इंजेक्शन एमजीएम मेडिकल कॉलेज के पास पहुंचे।

कॉलेज प्रबंधन द्वारा इनमें से करीब 9 हजार इंजेक्शन इंदौर के मेडिकल कॉलेजों व अन्य सरकारी अस्पतालों को मुहैया करवाए गए हैं जबकि भोपाल, जबलपुर सहित प्रदेश के अन्य 13 मेडिकल कालेजों से जुड़े अस्पतालों को ये इंजेक्शन भिजवाए गए।

इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज के डीन को रविवार को प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में आपूर्ति हेतु Mylan की ओर से रेमडिसिवर इंजेक्शन की 20 हजार वायल्स की आपूर्ति किए जाने की जानकारी खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा दी गई।

उन्होंने ट्वीट में लिखा है –

एमजीएम मेडिकल कॉलेज को रविवार को मिले 25 हजार इंजेक्शन में से सुपर स्पेशलिटी, एमआरटीबी, एमटीएच व अन्य अस्पतालों को लिए 7589 इंजेक्शन दिए गए जबकि 1395 इंजेक्शन जिला अस्पताल से संबंधित इंदौर में कोविड अस्पतालों को दिए गए। जिला अस्पताल के माध्यम से महू के सिविल अस्पताल और इंदौर संभाग के अन्य सरकारी अस्पतालों को ये इंजेक्शन दिए जाएंगे।

इसके अलावा इंदौर में कोरोना मरीजों के शवों को अब उनके परिजनों को उन्हीं अस्पतालों से सौंपा जाएगा, जहां उनकी मौत होगी। इसकी जानकारी देते हुए एमजीएम मेडिकल कलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित ने बताया कि सुपर स्पेशलिटी, एमटीएच व एमआरटीबी में भर्ती जिन मरीजों की मौत होगी, उनके परिजनों को वही से शव दिए जाएंगे।

बता दें कि अभी तक इन अस्पतालों में मरीजों की मौत होने के बाद उसे पैक कर एमवायएच की मॉर्चुरी में भेजा जाता था और वहां से परिजनों को शव हैंडओवर किए जाते थे। इसके कारण परिजनों को काफी परेशान होना पड़ता था।



Related






ताज़ा खबरें