चार झूठी शादी करने वाली लुटेरी दुल्हन के मौसा-मौसी को इंदौर पुलिस ने किया गिरफ्तार


खुलासा हुआ है कि लुटेरी दुल्हन अभी तक अलग-अलग राज्यों मे चार झूठी शादी करके घर के सोने-चांदी के आभूषण और रुपये लेकर फरार ही चुकी है।


देश गांव
इन्दौर Updated On :
dulhan looteri

इंदौर। इंदौर की महिला थाना पुलिस ने राजस्थान के एक शख्स द्वारा आरोपी बनाई गई लुटेरी दुल्हन के मौसा-मौसी को गिरफ्तार किया है। लुटेरी दुल्हन ने अलग-अलग राज्यों में चार झूठी शादियां कर लोगों को धोखा दिया है।

हालांकि आरोपी बनाई गई लुटेरी दुल्हन अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है जिसकी तलाश में पुलिस की टीम अलग-अलग राज्यों में गई है।

पूछताछ में ये भी खुलासा हुआ है कि लुटेरी दुल्हन अभी तक अलग-अलग राज्यों मे चार झूठी शादी करके घर के सोने-चांदी के आभूषण और रुपये लेकर फरार ही चुकी है।

looteri-dulhan-lakshmibai
आरोपी महिला की तस्वीर ( कानूनी वजहों से चेहरा ब्लर किया गया है)

फिलहाल, पुलिस अब लुटेरी दुल्हन की तलाश कर रही है। महिला थाना पलासिया इंदौर की जांच अधिकारी रश्मि पाटीदार ने बताया कि जल्द लुटेरी दुल्हन पर पुलिस का शिकंजा होगा।

इंदौर की महिला थाना पुलिस ने राजस्थान के पाली जिले निवासी उमेद सिंह की शिकायत पर आरोपी लुटेरी दुल्हन लक्ष्मीबाई और उसके मौसा राजू सनोरिया व मौसी कमलाबाई सनोरिया के खिलाफ झूठ बोलकर शादी करने व धोखाधड़ी करने का केस दर्ज किया है।

फरियादी उमेद सिंह ने बताया कि 7 अप्रैल 2016 को लक्ष्मीबाई निवासी गौरी नगर से उसने बिजासन माता मंदिर में शादी की थी। शादी के बाद एक तीन साल और एक डेढ़ साल की बेटी है। वह तमिलनाडु में काम करता है।

दूसरी बेटी को पत्नी लक्ष्मी जन्म देने वाली थी, तभी उसकी मौसी कमलाबाई और मौसा राजू ने उसे उसकी डिलीवरी के लिए अहमदाबाद बुलाया। यहां दूसरी बच्ची को जन्म देने के बाद उसने मुझसे रुपयों की मांग की। शादी के बाद से सास-ससुर के खाते में 6 लाख रुपये जमा करवा रखे हैं।

इसके बावजूद वो दोनों बेटियां उसे देकर चले गए। कुछ दिन ससुराल में रहने का बोलकर पत्नी लक्ष्मीबाई वापस नहीं आई जिसे लेने के लिए उमेद सिंह माता-पिता से बात कर इंदौर आया तो पता चला उसकी तीसरी शादी उसके माता-पिता ने अहमदाबाद में की है।

इसके पहले मुंबई में एक आदमी से भी वह शादी कर एक बच्ची को जन्म दे चुकी है। मौसा-मौसी बेटी लक्ष्मी की शादी करवाकर लोगों से रुपये व जेवरात हड़प लेते हैं। जांच के बाद पुलिस ने तीनों पर केस दर्ज कर मौसेरे सास-ससुर को गिरफ्तार भी कर लिया है।