महूः जानापाव में नर्मदा का पानी लाने की मांग को लेकर कांग्रेसियों ने निकाली पैदल रैली


जानापाव में नर्मदा का पानी लाने की मांग को लेकर कांग्रेसियों ने पैदल रैली निकाली तथा मंत्री उषा ठाकुर के नाम एक ज्ञापन एसडीएम अभिलाष मिश्रा को सौंपा। ज्ञापन में कार्य से लाभांवित होने वाले ग्राम व किसानों को सिचांई में होने वाले लाभ की जानकारी दी गई है।


अरूण सोलंकी अरूण सोलंकी
इन्दौर Published On :
maheshwar-janapav-2

महू। जानापाव में नर्मदा का पानी लाने की मांग को लेकर कांग्रेसियों ने पैदल रैली निकाली तथा मंत्री उषा ठाकुर के नाम एक ज्ञापन एसडीएम अभिलाष मिश्रा को सौंपा। ज्ञापन में कार्य से लाभांवित होने वाले ग्राम व किसानों को सिचांई में होने वाले लाभ की जानकारी दी गई है।

मंगलवार को पूर्व विधायक अंतरसिंह दरबार के नेतृत्व में ग्रामीण क्षेत्र के कांग्रेसी नेताओं ने पैदल रैली निकाली। यह रैली महेश्वर जानापाव उद्वहन सिंचाई योजना एवं रिवर लिंक योजना से जानापाव क्षेत्र को नर्मदा का पानी दिए जाने की मांग को लेकर निकाली गई थी।

ज्ञापन में बताया गया कि इस योजना से मालवा क्षेत्र की 26 हजार हेक्टेयर भूमि की सिचांई हो सकेगी। 3.24 लाख रुपये प्रति हेक्टेयर की लागत वाली इस योजना पर कुल 1345.45 करोड़ रुपये व्यय संभावित है।

इसके अलावा इस योजना से यहां से निकलने वाली सात नदियों को भी नया जीवन मिल सकेगा। ज्ञापन में इस योजना से जिन ग्रामों, तालाबों व नदियों को लाभ होगा उसकी सूची भी सौंपी गई।

maheshwar-janapav-1

इसके पूर्व कांग्रेसी नेताओं ने डीमलैंड चौराहे से पैदल रैली निकाली जो नगर के प्रमुख मार्गों से होती हुई तहसील कार्यालय पहुंची। इसमें बड़ी संख्या में ग्रामीण कांग्रेस के नेता शामिल हुए जिसमें प्रमुख रूप से रामेश्वर पटेल, कमल चौधरी, दिनेश पाटीदार, शाहीद खान, इरफान पटेल, इंदर ठाकुर, हुकुम आंजना, मंसूर पटेल, अशोक वर्मा, अजय वर्मा, जगदीश यादव, अमजद सामोदिया आदि मौजूद थे।

दस फीट दूर से पढ़ा ज्ञापन – 

तहसील कार्यालय में ज्ञापन देते समय एसडीएम मिश्रा व अंतरसिंह दरबार ने शारीरिक दूरी नियम का पूरी तरह पालन किया। ज्ञापन पढ़ते समय दोनों के बीच करीब दस फीट की दूरी थी। कुछ कार्यकर्ताओं ने पास जाने के लिए कहा, लेकिन बात नहीं सुनी गई।