रविवार को महू में लॉक डाउन नहीं लेकिन करना होगा नियमों का पालन


एसडीएम अभिलाष मिश्रा ने लॉकडाउन को लेकर स्थिति स्पष्ट की है। उन्होंने बताया कि संक्रमण में कमी आने पर बंद की गईं गलियां फिर खोल दी जाएंगी।


अरूण सोलंकी अरूण सोलंकी
इन्दौर Updated On :

महू। इंदौर शहर में शुक्रवार को 708 नए संक्रमित मिले हैं। यहां संक्रमण की दर करीब 13 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। इस दौरान शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण इलाकों में भी संक्रमण के मरीज लगातार मिल रहे हैं और सबसे चिंताजनक हालत महू शहर की है। जहां बीते दो दिनों में 119 संक्रमित मिल चुके हैं वहीं शनिवार दोपहर तक 27 मई संक्रमित सामने आए हैं।

फिलहाल यहां सक्रिय मामलों की संख्या करीब चार सौ है। साढ़े तीन लाख की आबादी वाले इस तहसील में इतने संक्रमित डराने वाला आंकड़ा साबित हो रहा है जो रोज़ ही बढ़ रहा है।

संक्रमण का यही बढ़ता हुआ ग्राफ प्रशासन को चिंता में डाले हुए हैं। शुक्रवार शाम को एसडीएम अभिलाष मिश्रा ने शहर की मेन स्ट्रीट को जोड़ने वाली गलियां बंद कर दी थी। जिसके बाद लोगों में एक बार फिर लॉक डाउन का डर नजर आ रहा है।

यहां की गलियां सात दिनों के लिए बंद की गई हैं हालांकि मिश्रा का कहना है कि यदि अगले तीन दिनों में इस इलाके में संक्रमितों की स्थिति ठीक होती है तो यहां यह गलियां खोल दी जाएंगी। फिलहाल यहां 16 संक्रमित हैं जो आइसोलेशन में ना जाकर बाजारों में घूम रहे हैं और दूसरों के संपर्क में आ रहे हैं।

शनिवार को इस इलाके में दुकानदारों को नियमों का पालन करने के लिए कहा गया। मेन सिटी कई दुकानें पूरी तरह खुली थी और यहां आवाजाही लगातार बनी हुई थी जिसके बाद पुलिस और प्रशासन ने सख्ती के साथ यहां की दुकानें बंद करवाईं।

फिलहाल शहर के लुनियापुरा इलाके में स्थिति सबसे ज्यादा भयावह बताई जा रही है। यहां करीब 20 से अधिक लोग संक्रमित होने की ख़बर है।

इसीक्षेत्र में शनिवार को हाट बाजार भी लगा जहां बड़ी संख्या में आसपास के क्षेत्रों से ग्रामीण लोग पहुंचे हैं। ज़ाहिर है ऐसे में संक्रमण एक बार फिर बढ़ सकता है।

 

महू में लॉक डाउन की आशंका पर एसडीएम अभिलाष मिश्रा ने साफ इंकार किया है। उन्होंने बताया कि अब महू में रविवार को भी लॉक डाउन नहीं होगा हां इस दौरान कोरोना से बचाव के नियमों का पालन ज़रुरी होगा और इसका पालन न करने वालों पर सख़्त कार्रवाई की जाएगी।