रीवा में नाबालिग से गैंगरेप के तीन आरोपियों के घर प्रशासन ने बुलडोजर से ढहाए


रविवार शाम 5 बजे जिला प्रशासन लाव लश्कर के साथ आरोपियों के घर बुलडोजर लेकर पहुंचा। नाप-जोख में अवैध निर्माण मिलने पर तीन आरोपियों के घर बुलडोजर लगाकर ढहा दिए।


देश गांव
रीवा Published On :
rewa gangrape case

रीवा। रीवा में 16 वर्षीय नाबालिग के साथ छह लड़कों द्वारा गैंगरेप करने के मामले में प्रशासन ने तीन आरोपियों के घरों पर हुए अवैध निर्माण ढहा दिए हैं।

रविवार शाम 5 बजे जिला प्रशासन लाव लश्कर के साथ आरोपियों के घर बुलडोजर लेकर पहुंचा।

नाप-जोख में अवैध निर्माण मिलने पर तीन आरोपियों के घर बुलडोजर लगाकर ढहा दिए। बचे तीनों आरोपियों के घर भी टीम सोमवार को जा सकती है।

बता दें कि 16 वर्षीय नाबालिग लड़की अपने दोस्त के साथ नईगढ़ी थाने के अष्टभुजी माता मंदिर गई थी, जहां से दोनों मंदिर के बगल से लगे जंगल में जाकर फोटो क्लिक करने लगे, तभी पास के ही गांव के छह लड़के आ गए।

इन आरोपियों ने दोनों को दो घंटे तक बंधक बनाए रखा और उनके साथ मारपीट भी की। दोनों के मोबाइल व पीड़िता की पायल छीन लिए। इतना ही नहीं, इसके बाद सभी आरोपियों ने लड़की के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया।

बदहवास पीड़िता व उसका दोस्त किसी तरह बाहर निकले और पुलिस को सूचना दी। एसडीओपी नवीन दुबे सहित नईगढ़ी पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने उनके स्वजन को जानकारी दी और उन्हें लेकर आ गई। किशोरी की हालत खराब होने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया।

घटना को अंजाम देने वाले छह आरोपियों में शिवम यादव, चंदेश यादव, रामगोपाल यादव और कान्हा सिंह समेत दो नाबालिग शामिल हैं। पुलिस ने तीन आरोपियों शिवम यादव, चंदेश यादव और रामगोपाल यादव को गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं दो नाबालिग आरोपितों को पुलिस मुंबई से गिरफ्तार कर ला रही है। एक अन्य आरोपी कान्हा सिंह की तलाश की जा रही है।



Related